संजीवनी टुडे

‘रबर स्टाम्प या पोस्ट ऑफिस’नहीं हूं: धनकड़

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 04-12-2019 17:44:52

पश्चिम बंगाल में राजभवन और मुख्यमंत्री कार्यालय के बीच अधिकारों को लेकर चल रहे शीत युद्ध के बीच राज्यपाल जगदीप धनकड़ ने कहा है कि वह रबर स्टाम्प या पोस्ट ऑफिस नहीं है कि लंबित पड़े विधेयकों की बिना जांच किये किसी भी चीज पर हस्ताक्षर कर दें।


कोलकाता। पश्चिम बंगाल में राजभवन और मुख्यमंत्री कार्यालय के बीच अधिकारों को लेकर चल रहे शीत युद्ध के बीच राज्यपाल जगदीप धनकड़ ने कहा है कि वह रबर ‘स्टाम्प या पोस्ट ऑफिस’ नहीं है कि लंबित पड़े विधेयकों की बिना जांच किये किसी भी चीज पर हस्ताक्षर कर दें।

यह खबर भी पढ़ें:​ लाहाबाद विश्वविद्यालय के रिक्त पदों को भरने की मांग

धनकड़ ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, “राज्यपाल के तौर पर संविधान की मूल भावना का पालन करता हूं और आंख बंदकर कोई काम नहीं कर सकता हूं। मैं न तो रबर स्टैम्प हूं और न ही पोस्ट ऑफिस। मैं संविधान को ध्यान में रखकर विधेयकों की जांच करता हूं और बिना देर किये कार्रवाई करता हूं। सरकार द्वारा इस बारे में लगाये गये आरोपों से दुखी हूं।”

उन्होंने कहा कि उनके पास भेजे गये उन सरकारी विधेयकों पर सहमति देने और हस्ताक्षर नहीं करने के कारण विधानसभा में चर्चा ही नहीं की जा सकती है।
उल्लेखनीय है कि विधानसभा अध्यक्ष विमान बनर्जी ने मंगलवार को यह कहते हुए विधानसभा की कार्रवाई दो दिनों के लिए स्थगित कर दी थी कि जब तक राजभवन से लंबित पड़े विधेयकों को मंजूरी नहीं मिल जाती है, तब तक किसी मुद्दे पर चर्चा नहीं हो सकती है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended