संजीवनी टुडे

अजमेर में राष्ट्रीय पुस्तक मेला 13 से 21 अप्रेल तक

संजीवनी टुडे 19-03-2019 20:12:18


अजमेर। राष्ट्रीय पुस्तक न्यास द्वारा पहली बार अजमेर में राष्ट्रीय पुस्तक मेले का आयोजन किया जाएगा। यह पुस्तक मेला 13 से 21 अप्रेल तक 9 दिन आयोजित किया जाएगा। आजाद पार्क में लगने वाले इस पुस्तक मेले में आमजन को देश विदेश के ख्यातनाम लेखकों की पुस्तकें पढ़ने एवं खरीदने का अवसर मिलेगा। यह मेला प्रतिदिन सुबह 11 बजे से शाम 8 बजे तक रहेगा।

जिला कलेक्टर विश्व मोहन शर्मा ने पत्रकार वार्ता में राष्ट्रीय पुस्तक मेले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय पुस्तक मेले का आयोजन अजमेर के लिए गर्व की बात है। नेशनल बुक ट्रस्ट द्वारा पुस्तक संस्कृति से आमजन को जोड़ने की यह सकारात्मक और सार्थक पहल है। पुस्तक मेले में हिंदी,अंग्रेजी व राजस्थानी भाषा की पुस्तकों को भी प्रर्दशित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पुस्तक मेले में प्रतिदिन बच्चों व बड़े पाठकों के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इसमें प्रख्यात रचनाकार भागीदारी करेंगे। शाम के सत्र में बड़े पाठकों की भागीदारी को सुनिश्चित करने के लिए कार्यक्रम किये जायेंगे। इसमें कविता,व्यंग्य,नाटक,कहानी व विमर्श के सत्रों को रखा जाएगा जिसमें राजस्थान के प्रमुख रचनाकारों के अलावा दिल्ली के भी मशहूर लेखक पुस्तक मेले में सक्रिय भूमिका रखेंगे। मेले में मतदान जागरूकता से संबंधित विभिन्न गतिविधियां भी आयोजित की जाएंगी।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

शर्मा ने बताया कि विगत 60 वर्षों से अधिक समय से नेशनल बुक ट्रस्ट इंडिया पुस्तक प्रकाशन के क्षेत्र में है। देश के अधिकांश हिस्सों में आंचलिक इलाकों में भी ट्रस्ट अपनी गतिविधियों के साथ सक्रिय है। ट्रस्ट ने 300 से अधिक विदेशों में आयोजित पुस्तक मेलों में भागीदारी की है। ट्रस्ट लन्दन, जकार्ता, पेरिस, फ्रैंकफर्ट, सियोल, इटली, बीजिंग व शारजाह के साथ अन्य देशों में अपने प्रकाशनों के साथ मौजूद रहता है। विदेशों में भी भारत का प्रतिनिधित्व ट्रस्ट करता आया है। लगभग 40 से अधिक भाषाओं में ट्रस्ट पुस्तकों का प्रकाशन करता आया है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

ब्रेल लिपि की बेहतरीन पुस्तकें उपलब्ध रहेगी—
मेले में नेत्रहीन पाठकों के लिए भी ब्रेल लिपि की बेहतरीन पुस्तकें उपलब्ध रहेगी। नेशनल बुक ट्रस्ट नई दिल्ली में विश्व पुस्तक मेले का आयोजन करता आया है जोकि फ्रैंकफर्ट के बाद विश्व का दूसरा सबसे बड़ा पुस्तक मेला है। इसमें एक हजार से ज्यादा देशी व विदेशी प्रकाशक अपने नवीनतम प्रकाशन के साथ मौजूद रहते हैं। उन्होंने कहा कि आज के दौर में देखें तो पुस्तकें निश्चित ही पाठकों की मित्र है जो सदैव एक अच्छे दोस्त की भूमिका निभाने में सक्षम है। सनद रहें यह शहर में नेशनल बुक ट्रस्ट,इंडिया का पहला आयोजन है जिसमें शहर के गण्यमान्य लोगों के अलावा नेशनल बुक ट्रस्ट के निदेशक व अध्यक्ष भी मौजूद रहेंगे। 

More From state

Trending Now
Recommended