संजीवनी टुडे

ओलम्पिक गोल्ड मेडल पर टिकी है मेरी नजर: सुशील कुमार

संजीवनी टुडे 06-12-2018 20:51:13


सोनीपत। दो बार के ओलम्पिक मेडलिस्ट पहलवान सुशील कुमार ने कहा है कि वर्ष 2020 में टोक्यो में होने वाले ओलम्पिक को लेकर मैंने तैयारी शुरू कर दी है। मेरी नजर ओलम्पिक गोल्ड पर टिकी है, जिसे पाने के लिए मैं पूरा जोर लगा दूंगा। यह बातें उन्होंने गुरुवार को सोनीपत के गीतांजली सीनियर सेकेंडरी स्कूल, गुरु सदन, बड़वासनी में आयोजित 64वीं राष्ट्रीय स्कूल कुश्ती चैंपियनशिप के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कही।
 
इस अवसर पर बतौर स्कूल गेम्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के चेयरमैन सुशील कुमार ने कहा कि ओलम्पिक मेडल का रास्ता राष्ट्रीय स्कूल चैंपियनशिप से होकर ही निकलता है। मैंने भी सबसे पहले अंडर-14 आयु वर्ग में इसी प्रतियोगिता में खिताब जीता था। उन्होंने युवा महिला पहलवानों से कहा कि खेल में अनुशासन का पालन करके ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सफलता हासिल की जा सकती है। स्कूली स्तर पर खेलों को बढ़ावा देने के लिए फेडरेशन व उनकी ओर से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने सोनीपत में राष्ट्रीय चैंपियनशिप केे आयोजन पर प्रसन्नता जताई। साथ ही, भरोसा जताया कि इस चैंपियनशिप में शिरकत कर रहीं पहलवानों में से कई अंतरराष्ट्रीय स्टार निकलेंगी। इस अवसर पर संस्थान के अध्यक्ष नरेंद्र सूरा व एईईओ जगबीर सिंह मलिक ने सुशील कुमार का पगड़ी व स्मृति चिन्ह भेंटकर उनका स्वागत किया। 
 
महिला पहलवानों में दिखी सुशील के प्रति दीवानगी 
गुरु सदन में पहलवान सुशील कुमार के आने की सूचना मात्र से ही प्रतिभागियों में खुशी की लहड़ दौड़ गई। चैंपियनशिप के आयोजन स्थल पर सुशील के पहुंचते ही उनके संग फोटो खिंचवाने को लेकर वहां महिला पहलवानों में होड़ मची गई। सुशील ने भी किसी को निराश नहीं किया। उन्होंने दोनोंं मैट पर पहुंचकर पहलवानों से हाथ मिलाकर मुकाबला भी शुरू करवाया। साथ ही, वहां मौजूद रेफरी व अन्य पदाधिकारियों का हालचाल जाना। 

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314166166
MUST WATCH & SUBSCRIBE

 
बड़वासनी पंचायत ने भी किया सुशील का स्वागत 
चैंपियनशिप मेें पहुंचने से पहले बड़वासनी गांव में बबला प्रधान के नेतृत्व में पंचायत ने सुशील कुमार का जोरदार स्वागत किया। इस मौके पर दीपक कुहाड़, रणधीर अमित सहित भारी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे। यहां से सैकड़ों बाइकों के जत्थे व गाजे-बाजे के साथ सुशील को चैंपियनशिप के आयोजन स्थल तक ले जाया गया। 
 
sanjeevni app

More From state

Loading...
Trending Now