संजीवनी टुडे

एमपी बोर्ड: 10वीं का परीक्षा परिणाम घोषित, छात्राओं ने फिर मारी बाजी

संजीवनी टुडे 04-07-2020 14:07:00

मध्य प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंडल (एमपी बोर्ड) द्वारा शनिवार को हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा (कक्षा 10वीं) का परिणाम आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in और ऐप रिजल्ट जारी कर दिया है।


भोपाल। मध्य प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा मंडल (एमपी बोर्ड) द्वारा शनिवार को हाईस्कूल सर्टिफिकेट परीक्षा (कक्षा 10वीं) का परिणाम आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in और ऐप रिजल्ट जारी कर दिया है। इस वर्ष हाईस्कूल के नियमित विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम 62.84 प्रतिशत रहा। इसमें छात्राओं ने एक बार फिर बाजी मार दी है। उन्होंने लड़कों को पीछे छोड़ दिया है। छात्रों का पास होने का प्रतिशत 60.9 फीसदी रहा, जबकि नियमित छात्राएं 65.87 परीक्षा में सफल हुईं। दसवीं में 15 विद्यार्थियों ने सौ फीसदी अंक हासिल कर पहला स्थान प्राप्त किया है। वहीं, स्वाध्यायी परीक्षार्थियों का परिणाम 16.95 फीसदा रहा है।

उल्लेखनीय है कि पिछले दो साल से एमपी बोर्ड द्वारा कक्षा 10वीं और 12वीं का परीक्षा परिणाम एकसाथ 15 मई को घोषित किया जाता था, लेकिन इस बार कोरोना के चलते परिणाम घोषित करने में देरी हुई और 10वीं का नतीजा पहले घोषित किया गया है। विद्यार्थी अपना परीक्षा परिणाम ऑनलाइन देख सकते हैं। इसके लिए एमपी बोर्ड ने 4 सरकारी वेबसाइट और मोबाइल फोन पर दो ऐप में यह रिजल्ट अपलोड किया है। एमपी बोर्ड द्वारा जारी दसवीं का परिणाम बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट्स mpbse.nic.in  और mpresults.nic.in के माध्यम से रिजल्ट चेक कर सकते हैं।

15 विद्यार्थियों ने 300 में से 300 यानी सौ फीसदी अंक हासिल कर पहला स्थान प्राप्त किया है। इनमें भिंड के अभिनव शर्मा, गुना के लक्षदीप धाकड़, गुना की प्रियांशी रघुवंशी, गुना के पवन भार्गव, पन्ना के चतुर कुमार त्रिपाठी, मंदसौर के हरिओम पाटीदार, उज्जैन की राजनंदिनी सक्सेना, उज्जैन के नागदा के सिद्धार्थ सिंह शेखावत, पीथमपुर धार के हर्ष प्रताप सिंह, महू इंदौर की कविता लोधी, विदिशा की मुस्कान मालवीय, गंजबासौदा विदिशा की देवांशी रघुवंशी, भोपाल की कर्णिका मिश्रा, रायसेन के प्रशांत विश्वकर्मा और रायसेन की वेदिका विश्वकर्मा शामिल हैं।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, कोरोना संक्रमण के चलते जिन विषयों की परीक्षाएं संपन्न हुई थीं उन्हीं विषयों के आधार पर परीक्षाफल तैयार किया गया है। आठ लाख 91 हजार 866 नियमित परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए गए हैं। इनमें 42 हजार 390 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, दो लाख 15 हजार 162 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी एवं दो हजार 922 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इस प्रकार कुल पांच लाख 60 हजार 474 परीक्षार्थी परीक्षा में सफल हुए हैं, जिनका परीक्षाफल 62.84 फीसदी रहा। वहीं, एक लाख आठ हजार 448 परीक्षार्थियों ने पूरक की पात्रता प्राप्त की है। वहीं, 1444 विद्यार्थियों के अंकों की पुष्टि नहीं हो पाई है, जिसके चलते इनका परिणाम बाद में घोषित किया जाएगा।

इसी तरह दो लाख तीन 823 स्वाध्यायी परीक्षार्थियों का परिणाम घोषित किया गया है। इनमें 18 हजार  194 परीक्षार्थी  प्रथम श्रेणी में, 3483 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में, 12885 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इस प्रकार कुल 34563 परीक्षार्थी परीक्षा में सफल हुये और परीक्षा परिणाम 16.95 प्रतिशत रहा, जबकि 29083 स्वाध्यायी परीक्षार्थियों ने पूरक की पात्रता प्राप्त की। वहीं, 235 परीक्षार्थियों के परीक्षाफल अंकों की पुष्टि नहीं होने के कारण उनाक परिणाम बाद में घोषित किया जाएगा।

यह खबर भी पढ़े: सुशांत ने बिना स्क्र‍िप्ट पढ़े ही 'दिल बेचारा' की थी साइन, मुकेश छाबड़ा ने किया खुलासा

यह खबर भी पढ़े: कोरोना काल में रविवार को लगने जा रहा है साल का तीसरा चंद्रग्रहण, जानें कितना प्रभावशाली होगा ये ग्रहण

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended