संजीवनी टुडे

300 से अधिक वैज्ञानिक, शिक्षाविद और शोधार्थी करेंगे मंथन

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 15-11-2019 12:39:01

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय कल से 18 नवंबर तक अत्याधुनिक तकनीक के लिए अल्ट्रासोनिक एवं पदार्थ विज्ञान विषयक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय कल से 18 नवंबर तक अत्याधुनिक तकनीक के लिए अल्ट्रासोनिक एवं पदार्थ विज्ञान विषयक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।

यह खबर भी पढ़ें:​ अगले वर्ष 26 जनवरी पर इस देश का राष्ट्रपति होगा गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि, जानें कौन?

सम्मेलन रज्जू भइया भौतिकीय विज्ञान अध्ययन एवं शोध संस्थान पूर्वांचल विश्वविद्यालय और राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला अल्ट्रासोनिक सोसाइटी आफ इंडिया, नई दिल्ली की ओर से आयोजित हो रहा है।

कुलपति राजाराम यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय में पहली बार विज्ञान विषय पर तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन का आयोजन किया जा रहा है। सम्मेलन में 300 से अधिक वैज्ञानिक, शिक्षाविद और शोधार्थी भाग लेने आ रहे है। वैज्ञानिक अल्ट्रासोनिक और मैटेरियल साइंस का मानव जीवन में किस प्रकार उपयोग हो रहा है इस पर चर्चा करेंगे।

मैटेरियल साइंस में फिजियोथैरेपी, घुटने के प्रत्यारोपण और शल्य चिकित्सा में उपयोग होने वाले पदार्थ के अध्ययन के बारे में भी मंथन होगा। इसी तरह नैनो पार्टिकल के क्षेत्र में इस बात पर चर्चा होगी कि रोगी के कोशिकाओं में कैसे और किस तरह से दवाओं को लक्ष्य तक पहुंचाया जाए ताकि वह उसके लिए लाभकारी हो।

वर्तमान में इन विषयों पर शोध कर रहे वैज्ञानिक अपने अनुसंधान से परिचित कराएंगे तथा शोध परिणामों को प्रभावी बनाए जाने के साथ बायोमेडिकल साइंसेज और नैनो विज्ञान आदि के समसामयिक उपयोग तथा उपायों पर भी चर्चा करेंगे।

यह खबर भी पढ़ें:​ लता मंगेशकर की अच्छी सेहत के लिए अजमेर दरगाह में की गई दुआ, मुस्लिम महिलाओं ने भी लिया हिस्सा

सम्मेलन में भारत, इंगलैंड, फ्रांस, अमेरिका और नेपाल के अलावा अन्य देशों के वैज्ञानिक एवं शिक्षाविद आ रहे हैं।

सम्मेलन का उद्घाटन सत्र में राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला एवं भारतीय राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर डॉक्टर कृष्णलाल मुख्य अतिथि होंगे। सम्मेलन की अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति राजाराम यादव करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended