संजीवनी टुडे

प्रदेश में अद्भुत कलाओं और सुरों से सजी मोमासर चौपाल

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 20-10-2019 22:47:34

राजस्थान की समृद्ध विरासत को दर्शाने वाले मोमासर उत्सव में दूसरे दिन पदमश्री साकिर अली और पदमश्री रामकिशोर छीपा कार्यक्रम में भाग लेने के लिए विशेष रूप से मोमासर पहुंचे।


जयपुर। राजस्थान की समृद्ध विरासत को दर्शाने वाले मोमासर उत्सव में दूसरे दिन पदमश्री साकिर अली और पदमश्री रामकिशोर छीपा कार्यक्रम में भाग लेने के लिए विशेष रूप से मोमासर पहुंचे। जैमिनी कार्पोरेशन एन.वी. बेल्जियम, सुरवि चैरिटेबल ट्रस्ट, जयपुर एवं जाजम फाउंडेशन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित मोमासर उत्सव का दूसरा दिन अनदेखे-अनसुने वाद्य, पारम्परिक कलाएं और भक्ति कथाओं के नाम रहा।

यह खबर भी पढ़ें: ​प्रदेश में सोशल मीडिया पर साम्प्रदायिक सद्भाव भंग करने वालों पर की जायेगी कठोर कार्रवाई

रवि चैरिटेबल ट्रस्ट के रवि बोरड ने बताया कि कार्यक्रम में रस्सी पर चलता आदमी, रूप बदलता बहुरूपिया, नाचती कठपुतलियां और बजता हुआ अलगोजा बरबस लोगों का आकर्षण का केन्द्र बने हुये है। बरसों पुरानी हवेली में कला का एक ऐसा मेला सजा जिसे देखकर लगा कि ये ही तो हमारी परम्परा है, यही हमारा इतिहास है और यही हमारी पहचान है। लकड़ी के खिलौने और मिट्टी की ऐसी कारीगरी की हर किसी को बचपन की याद आ जाए। फड़ चि़त्रकारी और कावड़ कला ने जैसे लोक देवता की कहानी को आंखों के सामने जीवंत कर दिया हो।

उन्होने बताया कि दूसरे दिन भक्तिमय शुरूआत जैसलमेर के बोहा गांव से आये पुन्माराम और साथियों के भजन गायन से हुई। तन्दूरा पर कृष्ण, मीरा के भजनों के साथ दर्शकों ने भक्ति, प्रेम और विरह का भाव दिल से महसूस किया। भृतहरी कथा और देवनारायण महागाथा जैसी संगीतमय कथाओं ने माहौल को न केवल भक्ति रस से भरा बल्कि जीवन का सार भी बताया।

इस आयोजन में राजस्थान की विभिन्न क्षेत्रीय संस्कृतियों के दो सौ से ज़्यादा कलाकार अपनी प्रस्तुतियां दे रहे हैं और अपने हस्त कौशल का प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दो दिवसीय उत्सव में 30 से अधिक गांवों, कस्बों, शहरों और देश विदेश के लगभग दस हजार लोग शामिल हुए।

मात्र 2500/- प्रति वर्गगज में फार्म  हाउस अजमेर रोड, जयपुर  में 9314188188

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended