संजीवनी टुडे

देश में एकता के लिए मिलकर प्रयास करना होगा : मोहन भागवत

संजीवनी टुडे 25-02-2018 22:49:01

Source: GOOGLE

जयपुर। मेरठ में सेवक संघ के अब तक सबसे बड़े स्वयं सेवक समागम राष्ट्रोदय की शुरुआत हो चुकी है। समागम में सर संघ चालक मोहन भागवत के साथ जैन संत विहर्ष सागर महाराज और स्वामी अवधेशानंद गिरी भी उपस्थित रहे है। संघ प्रमुख ने कहा है की भारत ही दुनिया को राह दिखा सकता है।इसको लेकर षड्यंत्र खूब होते रहे और होंगे भी लेकिन हमें एकजुट होना है।  

उन्होंने कहा कि देश में एकता के लिए मिलकर प्रयास करना होगा। ये देश हमारा प्राचीन घर है। हमारे लिए दूसरे देश में जाने की जगह नहीं है। इस देश का कुछ बिगड़ेगा तो जवब हमे देना पड़ता है।दुनिया भी अच्छी बातों को तभी मानती है। जब उसके पीछे कोई शक्ति खड़ी हो। 

इस देश के लिए हम दायित्ववान लोग है। हमें तैयार होना पड़ेगा। हमारे झगड़ों पर सभी अपनी रोटियां सेंकते हैं।हमें ये मानना पड़ेगा कि हर हिंदू हमारा भाई है।  पंथ कोई हो, पूजा पद्धति कोई भी हो, जाति कोई भी हो, भगवान कोई भी हो। भारत माता को अपनी माता मानने वाला हिंदू है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में कई ऐसे लोग है। जो हिंदू है लेकिन जानते नहीं कि हम हिंदू हैं। 

यें भी देखें: वीडियो : इस तरह बनाये हाेली पर चॉकलेट गुजिया

मुख्य मंच के बाईं ओर बनाए गए संतों के मंच पर ख्यातिलब्ध योग गुरु स्वामी कर्मवीर, जूना अखाड़े के नारायण गिरी, रविदास मिशन के सतीश दास, शुक्रताल से स्वामी सत्यानंद सहित काफी संख्या में साधु-संत मौजूद रहेंगे। मंच पर जैन, बौद्ध, सिख आदि संप्रदायों से संत बैठेंगे। राष्ट्रोदय में इस पर भी ध्यान दिया गया है कि सभी जातियों की भागीदारी हो खापों से भी संघ पदाधिकारियों ने संपर्क किया है। 

MUST WATCH 

Rochak News Web

More From state

Trending Now
Recommended