संजीवनी टुडे

अजीत जोगी की स्मृतियां : जैन साहब ! डिनर तैयार कराओ, मैं आ रहा हूं

संजीवनी टुडे 31-05-2020 17:15:13

यह वर्ष 1998 की बात है। छत्तीसगढ़ के पहले सीएम रहे अजीत जोगी उत्तराखंड की निजी यात्रा पर थे। वह श्रीनगर गढ़वाल के जीएमवीएन रेस्टहाउस में रात्रि विश्राम के लिए रुके थे।


देहरादून। यह वर्ष 1998 की बात है। छत्तीसगढ़ के पहले सीएम रहे अजीत जोगी उत्तराखंड की निजी यात्रा पर थे। वह श्रीनगर गढ़वाल के जीएमवीएन रेस्टहाउस में रात्रि विश्राम के लिए रुके थे। उन्होंने कांग्रेस नेता और नगरपालिका के चेयरमैन मोहन लाल जैन को फोन लगाया और उन्हें बताया कि वह उनके शहर में हैं। उन्होंने आत्मीय रिश्ते का परिचय देते हुए मोहन लाल जैन से कहा, जैन साहब ! डिनर तैयार कराओ, मैं आ रहा हूं। फिर वह रेस्टहाउस के नजदीक स्थित जैन निवास पर पैदल ही चले आए और डिनर किया।

यह संस्मरण श्रीनगर नगरपालिका के कई बार चेयरमैन रहे वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोहन लाल जैन ने सुनाया। जैन के अनुसार, जोगी चुनाव के दौरान भी उत्तराखंड में आते रहते थे। सभाओं में कांग्रेस के लिए वोट मांगते थे। सादगी की प्रतिमूर्ति थे। डिनर तैयार कराने से लेकर उसे खाने तक के पीछे उनकी यही भावना थी कि कांग्रेस के कार्यकर्ता को सम्मान दिया जाए।

जैन ने बताया कि यह कितना बड़ा संजोग रहा कि अजीत जोगी जिस उत्तराखंड से बेहद प्यार करते थे, उसका और उनके गृह राज्य छत्तीसगढ़ का वर्ष 2000 में एक साथ ही देश के नक्शे में उदय हुआ। राज्य गठन के बाद हुए उत्तराखंड विधानसभा के चुनाव में जोगी ने देहरादून आकर कई जगह कांग्रेस उम्मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार किया था। कांग्रेस के महानगर देहरादून अध्यक्ष लाल चंद्र शर्मा को अच्छी तरह से याद है कि चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ काफी वक्त गुजारा था। शर्मा के अनुसार, विधानसभा चुनाव में जोगी की उत्तराखंड में काफी डिमांड थी। हर जगह का उम्मीदवार चाहता था कि जोगी उसके क्षेत्र में प्रचार करने आए। इसकी एक बड़ी वजह उनका बहुत अच्छा वक्ता होना भी था।

छत्तीसगढ़ राज्य के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी आज हम लोगों के बीच नहीं है। बस उनकी स्मृतियां ही शेष है। अजित को उत्तराखंड के पहाड़ उन्हें बहुत पसंद थे। देहरादून हो या श्रीनगर यहां के कई कांग्रेस नेताओं से उनके निजी रिश्ते थे। उनकी मौत पर अब सभी दुखी हैं।

यह खबर भी पढ़े: मासिक धर्म के प्रति जागरुकता फैलाएंगी मानुषी छ‍िल्‍लर, यूनीसेफ के साथ मिलाया हाथ

यह खबर भी पढ़े: चार में से एक भारतीय लड़का कतराता हैं शादी करने से, जानिए क्या है वजह

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended