संजीवनी टुडे

मेरठ में ईद के बाद खुलेंगे बाजार, त्योहार गुजरने के इंतजार में प्रशासन

संजीवनी टुडे 24-05-2020 10:07:50

मेरठ में ईद के बाद खुलेंगे बाजार, त्योहार गुजरने के इंतजार में प्रशासन


मेरठ। कोरोना संक्रमण के चलते मेरठ जनपद रेड जोन में शामिल है। मेरठ में ईद के बाद बाजार खुलने की संभावना बन गई है। जिला प्रशासन भी भीड़ को रोकने के लिए ईद गुजर जाने का इंतजार कर रहा है। जबकि बाजार खोलने को लेकर संयुक्त व्यापार संघ के दोनों गुट आमने-सामने आ गए हैं।

मेरठ के जिला प्रशासन पर लंबे समय से उद्योग चालू कराने का दबाव बन रहा था। जिसके बाद प्रशासन ने नगर निगम के चार वार्डों को कंटेनमेंट जोन से बाहर निकाल कर लगभग तीन हजार उद्योग चालू करने का रास्ता खोल दिया। मेरठ में पहले ही खैर नगर दवा बाजार, कोटला बाजार और सदर बाजार अलग-अलग दिन खोलने का नियम बना हुआ है। जबकि सरधना और मवाना तहसीलों के अंतर्गत आने वाले कस्बों में भी बाजार खुल गए हैं। अब मेरठ शहर के बाजार खोलने का दबाव भी प्रशासन पर बन रहा है। 

सूत्रों का कहना है कि जिला प्रशासन ईद के गुजरने का इंतजार कर रहा है। ईद से पहले बाजार खुलने पर बाजारों में भारी भीड़ जुट जाएगी, जिसे रोकना नामुमकिन होगा। इससे शारीरिक दूरी के मानक ध्वस्त हो जाएंगे। ऐसे में ईद के बाद ही बाजार खुल सकते हैं। प्रशासन भी बाजार खोलने का निर्णय लेने के लिए ईद गुजरने का इंतजार कर रहा है।

31 मई को खत्म होगा लाॅकडाउन-4
केंद्र सरकार द्वारा लागू लाॅकडाउन-4 को 31 मई तक लागू किया गया है। प्रशासन की निगाह लाॅकडाउन को लेकर होने वाले केंद्र सरकार के अगले फैसले पर भी लगी है। उस गाइड लाइन के हिसाब से बाजारों को लेकर फैसला होगा। लाॅकडाउन-4 की गाइड लाइन में मेरठ जिला रेड जोन में शामिल किया गया है। जबकि पूरा शहर कंटेनमेंट जोन में शामिल है।

प्रशासन पर दबाव बना रहे व्यापारी संगठन
मेरठ में बाजार खोलने के लिए व्यापारी संगठन जिला प्रशासन पर दबाव बना रहे हैं। संयुक्त व्यापार संघ के दोनों गुटों ने प्रशासन को ईद के बाद बाजार खोलने को कह दिया है। इसे लेकर संयुक्त व्यापार संघ के नवीन गुप्ता गुट ने डीएम अनिल ढींगरा से मिलकर बाजार खोलने पर चर्चा की है। इस पर डीएम ने ईद गुजरने के बाद 26 मई को बाजार खोलने पर बैठने करने का आश्वासन दिया है।

आपस में ही उलझे व्यापारी गुट
बाजार खोलने के मुद्दे पर संयुक्त व्यापार संघ के दोनों गुट आपस में ही उलझ रहे हैं। एक गुट के अध्यक्ष नवीन गुप्ता का कहना है कि 26 मई से बाजार नहीं खुले तो व्यापारी खुद ही बाजार खोलने का निर्णय लेंगे। पुलिस प्रशासन को 26 मई शाम तक का समय निर्णय लेने के लिए दिया गया है। जबकि दूसरे गुट के अध्यक्ष अजय गुप्ता का कहना है कि जब व्यापारियों ने एक बार बाजार खोलने का ऐलान कर दिया तो प्रशासन से मिलने का कोई औचित्य नहीं है। हमने प्रशासन से ईद के बाद बाजार खोलने की मांग की है। ऐसे में प्रशासन को धमकी देना उचित नहीं है।

यह खबर भी पढ़े: फेम इंडिया की “50 प्रभावशाली भारतीय 2020” की सूची में सीएम हेमंत 12वें स्थान पर, केजरीवाल व नीतीश को पछाड़ा, पीएम मोदी सर्वाधिक प्रभावशाली

यह खबर भी पढ़े: मुख्यमंत्री योगी को वाट्सएप पर बम से उड़ाने की धमकी देने वाला मुम्बई से गिरफ्तार

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended