संजीवनी टुडे

महाराष्ट्रः किसान कर्ज माफी के खिलाफ राज्यपाल को सौंपे 55 हजार पत्र

संजीवनी टुडे 25-02-2020 22:02:29

विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस और पार्टी प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने राजभवन जाकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और 55 हजार किसानों का पत्र उन्हें सौंपा।


मुंबई। भाजपा ने किसान कर्ज माफी को धोखाधड़ी बताते हुए विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस और पार्टी प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने राजभवन जाकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और 55 हजार किसानों का पत्र  उन्हें सौंपा। 

भाजपा के कोल्हापुर जिले के अध्यक्ष समरजीत घाटगे की पहल से यह पत्र इकट्टे किए गए थे। इसमें कुछ किसानों द्वारा खून से लिखे पत्र भी शामिल हैं। फडणवीस और  पाटिल ने आरोप लगाया कि कर्ज माफी के नाम पर सरकार ने किसानों को बरगलाया है। कर्ज माफी के लिए कई शर्ते लादी गई हैं। मंगलवार को किसानों के साथ धोखाधड़ी और राज्य में बढ़ महिला अत्याचार का आरोप लगाते हुए भाजपा ने मंगलवार को महाविकास आघाड़ी सरकार के खिलाफ राज्यभर में धरना प्रदर्शन किया। 

दावा है इस आंदोलन को जनता प्रचंड प्रतिसाद मिला और प्रदेश भर में ढाई लाख से ज्यादा लोगों ने इसमें हिस्सा लिया। राज्यभर की सभी तहसीलों के सामने भाजपाईयों ने विरोध प्रदर्शन किया। मुंबई के आजाद मैदान में फडणवीस और चंद्रकांत पाटिल के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन किया गया। पार्टी प्रदेश मुख्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए पाटिल ने बताया कि राज्यभर में 355 स्थानों पर विरोध प्रदर्शन हुआ। छोटे से शहर हिंगणघाट में ढाई हजार लोग सड़क पर उतरे। हिंगणघाट में हुई महिला अत्याचार की घटना पर विरोध जताया। मुंबई, ठाणे, पुणे, नांदेड़ में बड़ी संख्या में लोग प्रदर्शन में शामिल हुए। राज्य सरकार के प्रति लोगों में गुस्सा है।    
 
पाटिल ने आरोप लगाया कि इस सरकार ने भाजपा सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाओं को रद्द कर दिया है। इस सरकार ने किसानों के साथ बड़ा धोखा किया है। राज्य में महाविकास आघाड़ी सरकार बनने के बाद अपराधियों को कानून का खौफ खत्म हो गया है। लिहाजा महिला उत्पीड़न की घटनाओं में वृद्धि हुई है। किसानों का सात बारह कोरा करने का वादा पूरा नहीं किया गया है। इस निष्क्रिय और कपटपूर्ण सरकार के खिलाफ लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए राज्यव्यापी धरना आंदोलन किया गया। पाटिल ने कहा कि यह आंदोलन तक सीमित नहीं है, आगे तीव्र संघर्ष छेड़ा जाएगा।  

बाप-बेटे की सरकारः मुनगंटीवार 
पूर्व वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने परोक्ष रूप से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे पर तंज कसते हुए कहा कि राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल हो रही है। यह सरकार केवल बाप-बेटे की है। जनता की समस्याओं से इन्हें कुछ लेना देना नहीं है। महाविकास आघाड़ी जनादेश को धोखा देकर सत्ता में आई है। मुनगंटीवार आजाद मैदान में आयोजित भाजपा के धरना प्रदर्शन को संबोधित कर रहे थे।

यह खबर भी पढ़े: हिंसा पर भड़काऊ बयान देने की बजाए संयम बरतें नेतागण- अमित शाह

यह खबर भी पढ़े: कांग्रेस ने दिल्ली में भड़की हिंसा के लिए केंद्र और दिल्ली सरकार को ठहराया जिम्मेदार

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended