संजीवनी टुडे

एम ने अखिल भारतीय इतिहास संकल्प योजना के 11वें राष्ट्रीय सम्मेलन में लिया हिस्सा

संजीवनी टुडे 23-12-2018 17:22:52


गुवाहाटी। असम के राज्यपाल प्रोफेसर जगदीश मुखी ने स्थानीय श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में अखिल भारतीय इतिहास संकल्प योजना के त्रिवार्षिक 11वें राष्ट्रीय सम्मेलन के दूसरे दिन रविवार को हिस्सा लेते हुए देश के गौरवशाली इतिहास को सीखने के लिए युवा पीढ़ी की आवश्यकता पर प्रकाश डाला। सम्मेलन के पहले दिन के कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने मुख्य अतिथि के रूप में हिस्सा लिया था । सम्मेलन का समापन 25 दिसम्बर को होगा।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने कहा, “जब हम अपने देश के गौरवशाली इतिहास को याद करते हैं, तो हम भारत को दुनिया के अग्रणी देश की श्रेष्ठ स्थिति में ले जाने के लिए प्रेरित होते हैं। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के एक भारत श्रेष्ठ भारत के आदर्श वाक्य हमें राष्ट्र के लिए कड़ी मेहनत करने और उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए मार्गदर्शन करते हैं।
 
मुख्यमंत्री ने 17 बार मुग़ल आक्रमण पर लाचित बरफूकन की जीत का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने पूरे दक्षिण पूर्व एशियाई क्षेत्र में शक्तिशाली मुगलों को अपने साम्राज्य का विस्तार करने से रोक दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब देश के लोग एकजुट होते हैं तो वे दुश्मनों और मजबूत देशों को हरा सकते हैं। हमारा इतिहास देशभक्ति की ऐसी कई प्रेरक कहानियों से भरा पड़ा है। अरुणाचल प्रदेश से गुजरात तक और कश्मीर से कन्याकुमारी तक, देश भर में युवाओं को सही इतिहास पढ़ाया जाना चाहिए, जो देशभक्ति और समाज के प्रति प्रतिबद्धता की भावना पैदा करे।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार लोगों को सर्वोत्तम सेवा प्रदान करने के लिए प्रधान मंत्री मोदी के आदर्शों का पालन कर रही है, ताकि समाज के सभी वर्गों को सम्मान की जिंदगी मिल सके। सोनोवाल ने कहा कि हमारी सरकार के ढ़ाई वर्ष के शासन काल में भ्रष्टाचार के एक भी मामले का आरोप नहीं लगा है और पारदर्शी शासन व्यवस्था देने में सरकार सफल रही है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार विकास के माहौल को सुविधाजनक नहीं बना सकी और बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार ने पूरी व्यवस्था को उलझा दिया। रेल राज्य मंत्री राजेन गोहाईं, अखिल भारतीय इतिहस सहायता योजना के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो सतीश चंद्र मित्तल ने भी इस मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित किया।

More From state

Trending Now
Recommended