संजीवनी टुडे

Lockdown: तीर्थयात्रियों की कमी को लेकर पंडा समाज स्वयं कर रहा पिंडदान

संजीवनी टुडे 25-05-2020 16:44:30

सनातन धर्मावलंबियों के विश्व प्रसिद्ध गयाजी में कोरोना और लाॅकडाउन का व्यापक असर पड़ा है। पिछले साल की अपेक्षा अप्रैल और मई महीने में करीब एक लाख हिन्दू गया


गया। सनातन धर्मावलंबियों के विश्व प्रसिद्ध गयाजी में कोरोना और लाॅकडाउन का व्यापक असर पड़ा है। पिछले साल की अपेक्षा अप्रैल और मई महीने में करीब एक लाख हिन्दू गया जी में अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति और मोक्ष प्राप्ति को लेकर कर्म कांड करने नहीं आए। इससे करोड़ों रुपए का लेन-देन नहीं हुआ। 

गयासुर राक्षस को भगवान विष्णु द्वारा दिए गए आशीर्वाद को लेकर गयापाल पंडा समाज की ओर से स्वयं पिंडदान कई तिथियों पर किया जा चुका है। गयापाल पंडा समाज को मोक्षधाम की सीढ़ी के रूप में सनातन धर्मावलंबियों के बीच मान्यता प्राप्त है।बगैर पंडा समाज के द्वारा दिए गए सुफल के गया श्राद्ध का पुण्य नहीं प्राप्त होता है।ऐसी धार्मिक मान्यता है। 

गयापाल पंडा समाज गया तीर्थ क्षेत्र तीर्थ पुरोहित समाज के वरिष्ठ सदस्य महेश गुपुत के अनुसार भगवान विष्णु ने गयासुर राक्षस को गया जी में प्रतिदिन एक मुंड और एक पिंड का वरदान दिया था। 

पंडा महेश गुपुत बताते हैं कि लाॅकडाउन के कारण इस साल अप्रैल और मई महीने से दक्षिण भारत से औसतन आने वाले करीब एक लाख सनातन धर्मावलंबी गया जी में अपने पूर्वजों की आत्मा की शांति और मोक्ष प्राप्ति को लेकर कर्मकांड करने नहीं आए। उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत के राज्यों में अप्रैल और मई महीने में अन्य राज्यों की अपेक्षा काफी गर्मी पड़ती है। ऐसे में अप्रैल और मई महीने में दक्षिण के राज्यों से औसतन पचास हजार से ऊपर नागरिक गया श्राद्ध करने के लिए आते रहे हैं। 

पंडा महेश गुपुत के शब्दों में गयाजी में रह रहे पंडा समाज के करीब 40-45 परिवार की ओर से अपने पूर्वजों को पिंडदान एवं जल तर्पण किया गया। पंडा समाज की ओर से गया जी में उस तिथि को पिंडदान किया गया।जिस दिन एक भी गैर पंडा समाज के सनातन धर्मावलंबियों की ओर से पिंडदान नहीं किया गया। महेश गुपुत के अनुसार पंडा समाज के द्वारा किए गए पिंडदान के बाद यजमान ने अपने भगिना या दामाद को दक्षिणा आदि देकर सुफल(आशीर्वाद) प्राप्त किया। 

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों जब गया विष्णुपद श्मशान घाट पर एक भी शव अंतिम संस्कार के लिए नहीं पहुंचा तो श्मशान घाट के डोमराजा के नेतृत्व में पुतला का अंतिम संस्कार किया गया।शव को अग्नि के हवाले किया गया।

यह खबर भी पढ़े: अविनाश के वियर ए मास्क अभियान के सपोर्ट में आए बिग बी, कोलाज शेयर कर लोगों से की मास्क पहनने की अपील

यह खबर भी पढ़े: सोहा अली खान ने खास अंदाज में दी अभिनेता पति कुणाल खेमू को 37वें जन्मदिन की बधाई

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended