संजीवनी टुडे

लॉकडाउन: प्रशासन के आदेश के बाद दिख रही सड़कों पर भीड़

संजीवनी टुडे 29-03-2020 16:14:50

22 मार्च को जनता कफ्र्यू और 24 मार्च की रात से 21 दिन के लिए लॉकडाउन की घोषणा के साथ कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए।


कोरबा। 22 मार्च को जनता कफ्र्यू और 24 मार्च की रात से 21 दिन के लिए लॉकडाउन की घोषणा के साथ कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए। इस दौरान सीमित समय के लिए ही लोगों को सुविधा दी गई ताकि वे जरूरी सामान ले सकें। इस दौरान भी कई समस्याएं आयी। प्रशासन के पास इस बारे में जानकारी पहुंची, जिसके बाद अधिकारियों ने व्यापारियों के साथ चर्चा की। मुख्य रूप से बाहर से ट्रांसपोर्ट के जरिये आने वाले सामान की उपलब्धता को पर जोर दिया गया। वहीं शनिवार रात प्रशासन ने एक नया आदेश जारी किया। इसके अंतर्गत डेयरी, सब्जी, किराना जैसे व्यवसाय के लिए समय बढ़ाया गया है। यह परिवर्तन रविवार सुबह से देखने को मिला। 

कोरबा नगर और उपनगरीय क्षेत्रों में सुबह 6.30 बजे दूध के लिए सीमित लोग दिखे। जबकि 10 बजे के बाद विभिन्न क्षेत्रों में पिछले दिनों की अपेक्षा ज्यादा लोग नजर आये। समय बढऩे के साथ संख्या में भी इजाफा नजर आया। शाम 4 बजे तक दुकानें चलती रहेंगी। आज इतवारी बाजार भी लगा है, जहां मुख्य रूप से सब्जियों की उपलब्धता करायी गई। माना जा रहा है कि नियमों में ढील देने के कारण बड़ी संख्या में लोग घरो से बाहर आये और सड़क व दुकानों पर दिखे। इससे आसपास में निगरानी करने में लगी पुलिस को परेशानी महसूस हुई। 

कोरोना वायरस के संक्रमण से छत्तीसगढ़ में पॉजिटीव मरीजों की संख्या 7 और अन्य प्रभावितों का आंकड़ा काफी होने के बावजूद प्रशासन ने आवश्यक वस्तु की खरीद बिक्री का समय बढ़ा दिया है। सुबह 10 से शाम 4 बजे तक दुकाने खोल दी गई है। नई व्यवस्था से सड़कों पर भीड़ दिख रही है। लोगों को कैसे रोका जाए, यह पुलिस के लिए चुनौती है। आशंका है कि इस स्थिति में खतरे बढ़ सकते है। हालांकि पुलिस ने अनावश्यक आवाजाही करने वालों पर निगरानी रखी है।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना वायरस से निपटने के लिए रोनाल्डो का बड़ा कदम, पांच वेंटिलेटर्स करेंगे दान

यह खबर भी पढ़े: लॉकडाउन का असर: मजदूरों के ज्यादा परेशानी महसूस कर रही उनकी घरवाली

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended