संजीवनी टुडे

Lockdown 4.0/ हरियाणा के मुख्‍यमंत्री ने ठुकराया नीतीश सरकार का प्रस्ताव, कहा- 'हमने प्रवासियों को अपनों की तरह रखा...

संजीवनी टुडे 19-05-2020 13:20:44

मनोहर लाल खट्टर ने नीतीश कुमार को पत्र में लिखा कि अपने राज्य के नागरिकों के बारे में आपकी चिंता उचित और सराहनीय है।


पटना। लॉकडाउन के दौरान जगह-जगह फंसे प्रवासी श्रमिकों का बिहार आना लगातार जारी है। ऐसे श्रमिकों को परेशानी नहीं हो, इसलिए बिहार सरकार ने हरियाणा सरकार ने उनके रहने पर हुए खर्च की भरपायी का प्रस्‍ताव रखा है। हालाँकि बिहार के नागरिकों की देखभाल के बदले राशि भेजे जाने पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज पत्र लिखकर नीतीश कुमार का आभार जताते हुए यह राशि वापस लौटा दी है।

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिख कर आभार जताते हुए उन्होंने पैसे लेने से इंकार कर दिया है। मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि राष्ट्र निर्माण में श्रमिकों के योगदान को देखते हुए पहले की तरह ही हरियाणा सरकार स्वयं प्रवासियों का खर्चा उठाएगी। उन्होंने कहा कि इस प्रस्ताव के लिए हम आपके व आपकी सरकार के आभारी हैं, लेकिन आपकी ओर से दी गई यह राशि हम अनुग्रह पूर्वक अस्वीकार कर वापस करने के लिए विवश हैं। 

 Nitish Kumar

हरियाणा में रहने वाला प्रत्‍येक भारतीय मेरी जिम्‍मेदारी-
मनोहर लाल खट्टर ने नीतीश कुमार को पत्र में लिखा कि अपने राज्य के नागरिकों के बारे में आपकी चिंता उचित और सराहनीय है। मैं इस पत्र के माध्यम से आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि हरियाणा में रह रहे प्रत्येक भारतीय नागरिक हमारे भी उतने ही हैं, जितने उन राज्यों के जहां से वे आते हैं। 

हरियाणा की उन्नति में रहा बड़ा योगदान
खट्टर ने लिखा कि हरियाणा हम इस बात को समझते हैं कि हरियाणा की आर्थिक, औद्योगिक और कृषि क्षेत्र की उन्नति में उनका भी बहुत योगदान है। हरियाणा आकर काम करने वाला हर नागरिक चाहे कहीं भी पैदा हुआ हो पर आज वो हमारे लिए किसी हरियाणवी से बिल्कुल भी कम नहीं है।

Manohar Lal Khattar

जो बिहार से वापस हरियाणा आने वाले का स्वागत-
हमने उन्हें अपनों की तरह रखा है और उनका ख्याल किया है। वे हमारी भी जिम्मेदारी हैं। हरियाणा सरकार के माध्यम से उन्हें हर संभव मदद की जा रही है और आगे भी की जाएगी। आज राष्ट्रीय एकता और अखंडता के संवैधानिक प्रण की रक्षा के दृष्टिगत हम उनकी सुरक्षा और सम्मान के लिए प्रतिबद्ध हैं। हमारे यहां हर रोज उद्योग वापस खुल रहे हैं और अर्थव्यवस्था भी सामान्य स्थिति में वापस लौट रही है, जब भी वो अपने परिवार वालों से मिल लें और वापस आना चाहें तो उनका स्वागत है। 

कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री ने भी किया सम्‍मान
हरियाणा के अलावा कर्नाटक के मुख्यमंत्री वीएस येदियरप्पा ने भी बिहारी श्रमिकों का सम्मान किया। राहत पैकेज की घोषणा की। लेकिन, बाद में कर्नाटक से बिहार आने वाली ट्रेनों को रद कर उन्होंने विवाद को जन्म दिया। बिहार सरकार के दबाव पर उन्होंने दोबारा टे्रेन खोलने की इजाजत दी। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: COVID-19 संकट/केंद्र सरकार ने वापस लिए स्टाफ को पूरा वेतन देने वाले निर्देश, कंपनियों और उद्योग जगत को मिलेगी राहत

यह खबर भी पढ़े: बिहार/Lockdown 4.0: नितीश सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन, राज्य में अब शुरू हो सकेगी ये सेवाएं

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended