संजीवनी टुडे

हत्याकांड में नामजद दो आरोपितों को आजीवन कारावास

संजीवनी टुडे 29-06-2019 14:23:35

करीब साढ़े चार साल पूर्व हथुआ थाना के चैनपुर गांव में एक किसान की हत्या के मामले में सुनवाई पूरी होने के बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश शैलेंद्र कुमार के न्यायालय ने शनिवार को आरोपित दो लोगों को आजीवन कारावास तथा 50-50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई।


गोपालगंज। करीब साढ़े चार साल पूर्व हथुआ थाना के चैनपुर गांव में एक किसान की हत्या के मामले में सुनवाई पूरी होने के बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश शैलेंद्र कुमार के न्यायालय ने शनिवार को आरोपित दो लोगों को आजीवन कारावास तथा 50-50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। सजा सुनाए जाने के बाद दोनों आरोपित को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। 

22 फरवरी 2015 की शाम में हथुआ थाना क्षेत्र के चैनपुर गांव निवासी शंकर राय अपने गन्ने के खेत से वापस घर लौट रहे थे। इसी बीच कुछ लोग रास्ते में उनसे उलझ गए तथा गाली-गलौज के बाद उन पर लाठी-डंडे व रॉड से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया। 

उन्हें बचाने जब उनके भाई शिवकुमार राय पहुंचे तो उन्हें भी मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। दोनों लोगों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें गोरखपुर रेफर कर दिया था, जहां इलाज के दौरान में शंकर राय की मौत हो गई थी। 

इस घटना को लेकर शिवकुमार राय के बयान पर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इसमें चैनपुर गांव के ही झूलन राय, ओशियर राय और नाबालिग रोहित राय को नामजद आरोपित बनाया गया। इस हत्याकांड में आरोप पत्र दाखिल किए जाने के बाद नाबालिग रोहित का अभिलेख अलग कर किशोर न्याय परिषद में स्थानांतरित कर दिया गया। जबकि झूलन राय एवं ओशियर राय के खिलाफ जिला एवं सत्र न्यायाधीश की कोर्ट में सुनवाई चल रही थी। 

एपीपी सुरेश द्विवेदी और बचाव पक्ष के अधिवक्ता की दलीलें सुनने के बाद न्यायालय ने दोनों आरोपित को हत्या के मामले में दोषी करार देते हुए उन्हें आजीवन कारावास तथा 50-50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई। अर्थदंड की रकम अदा नहीं करने पर दोनों आरोपित को एक-एक साल की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

uity

More From state

Trending Now
Recommended