संजीवनी टुडे

खराब मौसम के चलते लेह राजमार्ग और मुगल रोड बंद, श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग खुला

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 07-12-2019 17:19:04

केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख को कश्मीर घाटी से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग और 86 किलोमीटर लंबे ऐतिहासिक मुगल रोड पर बर्फ हटाये जाने का काम तो पूरा कर लिया गया है लेकिन मार्ग पर फिसलन के कारण इसे शनिवार को बंद रखा गया।


श्रीनगर। केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख को कश्मीर घाटी से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग और 86 किलोमीटर लंबे ऐतिहासिक मुगल रोड पर बर्फ हटाये जाने का काम तो पूरा कर लिया गया है लेकिन मार्ग पर फिसलन के कारण इसे शनिवार को बंद रखा गया।

यह खबर भी पढ़ें: Postal Circle Recruitment 2019: डाक विभाग में 5,778 पदों पर बंपर भर्तियां, जल्द करें आवेदन

कश्मीर घाटी को देश के बाकी हिस्से से जोड़ने वाले श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर शनिवार को यातायात बहाल रहा। राजमार्ग के बीच सोनमार्ग, जोजिला, कैप्टन मोड पर बर्फ हटाने का काम पूरा कर लिया गया है। यहां रात का तापमान शून्य से 15 से 20 डिग्री सेल्सियस रहता है। सड़क पर फिसलन होने के कारण दुर्घटना का खतरा है।

कश्मीर घाटी को केन्द्र शासित प्रदेश लद्दाख से जोड़ने वाला सड़क मार्ग सर्दियों में जोजिला दर्रे पर 15 फुट बर्फ जम जाने के कारण छह महीने के लिए बंद रहता है। केन्द्र सरकार ने सभी मौसम के लिए उपयुक्त सड़कें बनाने के लिए जोजिला में एक सुरंग के बनाने को मंजूरी दे दी है।

दक्षिण कश्मीर के शोपियां को राजौरी और पुंछ को जम्मू क्षेत्र से जोड़ने वाले मुगल रोड पर बर्फ हटाने का काम पूरा कर लिया गया है। सड़क पर फिसलन की स्थिति के कारण यातायात शुरू नहीं किया जा सका है। वैकल्पिक तौर पर श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर यातायात जारी है। छह नवम्बर को भारी हिमपात के बाद से यहां यातायात निलंबित है।

यातायात पुलिस अधिकारी ने शनिवार की सुबह यूनीवार्ता को बताया कि रात में यहां का तापमान जमाव बिंदु के नीचे है जिसके कारण विशेषकर पीर-की-गली में आज सुबह सड़क पर बहुत फिसलन बनी हुयी है। उन्होंने बताया कि शनिवार को हमने श्रीनगर-जम्मू मार्ग पर हल्के वाहनों को जाने की अनुमति दी है। कश्मीर घाटी से कांजीगुंड, गेट-वे ऑफ कश्मीर में 10 बजे से पहले हल्के वाहनों जाने की अनुमति रहेगी। 

उन्होंने कहा कि निर्धारित समय के बाद हल्के वाहनों को जाने की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि केवल श्रीनगर से जम्मू की ओर जाने वाले भारी वाहनों को अनुमति है और विपरीत दिशा से भारी वाहनों को जाने नहीं दिया जा रहा है।

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended