संजीवनी टुडे

नेता- कार्यकर्ता- उम्मीदवार सभी दिखे आराम के मूड में

संजीवनी टुडे 18-05-2019 20:55:35


पटना। ढाई महीने लम्बा चला चुनाव प्रचार शुक्रवार की शाम पांच बजे थम जाने के बाद अधकांश नेता शनिवार को आराम के मूड में दिखे .चाहे राजग हो या महागठबंधन, दोनों ही घटकों के नताओं ने अपना समय अपने- अपने घरों पर ही बिताया. हाँ , इतना जरूर था कि सबों ने अपने -अपने घर पर ही लोगों से मुलाक़ात की और रविवार को होने वाले मतदान के लिए आखिरी चरण की रणनीति बनाई . शनिवार का दिन राजनीतिक दलों के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने रविवार को होने वाले अंतिम चरण के मतदान के लिए तैयारियों में गुज़ारा. कुछ नेता भगवान की शरण में रहे ,कुछ ने पूर्णिमा होने के कारण पूजा पाठ कर दिन बिताया जबकि कुछ ने अपने घर में आराम फरमाया. लम्बे प्रचार की थकान राजग और महागठबंधन दोनों ही घटक दलों के नताओं के चहरे पर साफ़ झलक रही थी। 

पूरे चुनाव प्रचार के दौरान 171 सभाएं करने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भगवान बुद्ध की 2563वीं जयंती के अवसर पर एक अणे मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास में प्रतिस्थापित बोधिवृक्ष की पूजा-अर्चना की. मुख्यमंत्री को बौद्ध भिक्षुओं ने बोधिवृक्ष की पूजा-अर्चना कराई . चुनाव की घोषणा के बाद से हेलीकॉप्टर से लगातार क्षेत्र का दौरा कर 22 सभाएं कीं. हर दिन सभाएं करनेवाले बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने घर पर रह कर आज आराम करना बेहतर समझा . सुशील मोदी घर पर ही रहे और उन्होंने लोगों से वहीँ मुलाक़ात की. लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान भी शनिवार को कहीं नहीं निकले . उन्होंने 38 लोकसभा क्षेत्रों में 83 सभाएं कीं हैं। 

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी , उनके पुत्र तथा प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव और पाटलिपुत्र लोक सभा सीट से चुना लड़ रहीं राज्यसभा सदस्य मीसा भारती आज घर से नहीं निकले. धर्मपरायण महिला राबड़ी देवी ने बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर घर पर ही पूजा अर्चना की . पूरे परिवार की ईश्वर में आस्था है और परिवार के सभी सदस्यों ने ईश्वर से चुनाव को लेकर प्रार्थना की. इस बीच राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से लालू – राबड़ी की पुत्री रोहिणी आचार्या , राजलक्ष्मी तथा राजलक्ष्मी के पति तेजप्रताप ने लालू यादव से मुलाक़ात की. विगत 26 मार्च से लगातार जनसम्पर्क 

अभियान चला रहे पटना साहिब से भाजपा के उम्मीदवार और केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की तबीयत कुछ नासाज़ हो गई. आवाज़ निकलने में तकलीफ के कारण उन्हें बोलने में कठिनाई हो रही थी. अपनी तबीयत को देख उन्होंने घर पर ही रहना बेहतर समझा . घर पर सारा दिन उन्होंने पार्टी के नेताओं , कार्यकर्ताओं और मीडिया वालों से मुलाक़ात की और रविवार को होने वाले मतदान में बढ़- चढ़ कर हिस्सा लेने की अपील की. बिहार का लेनिनग्राद के रूप में प्रसिद्ध रह चुके बेगूसराय लोकसभा सीट से जे एन यू के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के भाकपा उम्मीदवार के रूप में मैदान में रहने और भाजपा के कद्दावर नेता रह चुके सिने स्टार बिहारी बाबू के कांग्रेस पार्टी से पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से मैदान में रहने से इस बार का चुनाव प्रचार काफी रोचक रहा। 

बेगूसराय में एक तरफ कट्टर हिंदूवादी नेता की छवि वाले गिरिराज सिंह थे तो दूसरी तरफ घोर वामपंथी कन्हैया कुमार . यहाँ भगवा और लाल रंगों के झंडे खूब टकराए. पटना साहिब की सीट भी कम रोचक नहीं रही . यहाँ दो पुराने साथी “एक्टर और बैरिस्टर” एक दूसरे से भिड़े रहे हैं. दोस्ती ऐसी कि एक दूसरे का नाम भी पूरे चुनाव प्रचार में नहीं लिया. बस एक दूसरे  दलों और नेताओं पर जुबानी हमले करते रहे. दरअसल शत्रुघ्न सिन्हा की जानी दुश्मन फिल्म में एक गाने के बीच- बीच में बोले गए उनके डायलॉग इस चुनाव में खूब चरितार्थ हो रहे हैं। 

“जो देख रहा हूँ कहीं वो ख्वाब तो नहीं, काँटों के भेष में छुपा गुलाब तो नहीं”, शत्रुघ्न सिन्हा मन ही मन ईश्वर से उनके इस डायलॉग के इस चुनाव में सच साबित हो जाने की कामना कर रहे हैं. इसके लिए वह आज अपनी पत्नी पूनम सिन्हा के साथ बोरिंग रोड स्थित साईं मंदिर जा कर शीश भी झुका आये. सिनेमा में खूब चर्चित रहा उनका “ खामोश” डायलॉग इस बार के चुनाव प्रचार में उनके खिलाफ खूब इस्तेमाल हुआ. अपने प्रचार में उनके विरोधी रविशंकर प्रसाद ने बार -बार कहा कि पटना साहिब की जनता अब खामोश नहीं रहेगी। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 इस क्षेत्र से दो बार सांसद रह चुके शत्रुघ्न सिन्हा संसद में “खामोश” रहने वाले सांसद के रूप में जाने जाते हैं. बिहार का चुनाव प्रचार काफी रोचक रहा विशेष कर बेगूसराय का . वामपंथियों ने और कन्हैया ने यहाँ जोश भर देने वाले खूब गाने गा कर डफली बजा कर लोगों को लुभाया . फिल्मी सितारे भी आये , गीतकार भी आये . यहाँ अंतर्राष्ट्रीय मीडिया का भी जमावड़ा रहा और इन सब को अकेले के दम पर चुनौती दी हिंदूवादी चेहरा गिरिराज सिंह ने।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

More From state

Trending Now
Recommended