संजीवनी टुडे

लालू के बेटे तेजस्वी का दावा, कहा- सरकार बनीं तो 85 फीसदी बिहारियों को...

संजीवनी टुडे 23-02-2020 20:32:13

राजद ने बेरोजगारी हटाओ यात्रा के जरिए चुनावी शंखनाद कर दिया है। रविवार को यात्रा पर निकलने से पहले बिहार में नेता प्रतिपक्ष और लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजस्वी यादव ने पटना वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में की सभा में दावा किया कि आने वाले चुनाव में हमें कोई नहीं हरा सकता।


पटना। राजद ने बेरोजगारी हटाओ यात्रा के जरिए चुनावी शंखनाद कर दिया है, रविवार को यात्रा पर निकलने से पहले बिहार में नेता प्रतिपक्ष और लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजस्वी यादव ने पटना वेटनरी कॉलेज ग्राउंड में की सभा में दावा किया कि आने वाले चुनाव में हमें कोई नहीं हरा सकता। 8 महीने बाद बिहार में राजद की सरकार बनने जा रही है। इस दौरान उन्होंने डोमिशाइल कार्ड खेल कर लोगों को रिझाने की कोशिश की। कहा, हमारी सरकार बनेगी तो बिहार में डोमिसाइल कानून लाएंगे जिसमें 85 फ़ीसदी बिहारियों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि बिहार में अभी लाखों पद खाली हैं, लेकिन युवा बेरोजगार हैं।

नीतीश सरकार ने जो नहीं किया है वह काम अपनी सरकार में हम करके दिखाएंगे। आईटी सेक्टर को मजबूत करेंगे और बिहार में आईटी पार्क बनाएंगे। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार में अब राजनीतिक इच्छाशक्ति खत्म हो गई है, लेकिन यकीन कीजिए हम युवाओं की बेरोजगारी की समस्या को दूर करेंगे। अगर पहले हमलोगों से कोई चूक हुई है तो हम उसे सुधारेंगे क्योंकि बदलता बिहार युवाओं का है। इसी सभा में तेजस्वी के बड़े भाई तेजप्रताप यादव ने अपनी पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह पर भी कटाक्ष किया। कहा, उन्‍हें जगदानंद सिंह के अनुशासन से डर लगता है।

तेजस्वी ने कहा, बेरोजगारी के मुद्दे पर केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला। कहा, सरकार या तो दो करोड़ युवाओं को नौकरी दे या फिर बेरोजगारी हटाओ यात्रा का समर्थन करे। रैली में राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे, राज्यसभा सांसद मनोज झा समेत सभी वरिष्ठ नेता मौजूद थे। तेजस्वी ने कहा कि एनआरसी हो या सीएए या एनपीआर इसका विरोध बिहार में सबसे पहले हमने ही किया था। इस मुद्दे पर बिहार बंद करवाया था। बिहार में काला कानून कभी लागू नहीं होगा। हमारे पिता लालू प्रसाद बीमार जरूर हैं, लेकिन जिंदा हैं। इसलिए किसी को घबराने की जरूरत नहीं है।

बगैर नाम लिये कांग्रेस पर हमला बोलते हुए तेजस्वी ने कहा, लालू जी की सरकार आने से पहले पटना का गांधी मैदान और रेलवे स्टेशन तक गिरवी था, लेकिन लालू जी जब सरकार में आये तो बिहार में काफी बदलाव हुआ। बिहार में हम युवाओं को रोजगार देने की बात कह रहे हैं और नीतीश जी अपनी नौकरी बचाने में लगे हैं। नीतीश कुमार ने बिहार को बेच दिया है। लालू बीमार हैं, लेकिन जिंदा हैं। तेजप्रताप यादव ने कहा कि हमलोग किसी से डरने वाले नहीं हैं। डंके की चोट पर विरोधियों से लड़ाई लड़ेंगे। सरकार ने कहा था कि रथ नहीं निकलेगा क्योंकि ये गरीबों और पिछड़ों का रथ है। मैं खुली चुनौती देता हूं। अगर किसी में हिम्मत है तो रथ रोककर दिखा दे। वे डरा रहे थे हमें जेल भेज देंगे। हमलोग तो भगवान कृष्ण के वंशज हैं जेल से क्या डरेंगे।

उन्होंने कहा कि लालू के दोनों लाल किसी से डरने वाले नहीं हैं, तेजप्रताप और तेजस्‍वी की जोड़ी कृष्‍ण-अर्जुन की जोड़ी है। तेजस्‍वी का रथ लेकर वे खुद जाएंगे। रथ रोकने की किसी में हिम्‍मत नहीं। धमकी दी गई कि सरकार रथ को रोकेगी, गिरफ्तार करेगी। लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटे किसी से डरने वाले नहीं हैं। तेज प्रताप के इस बयान को तेजस्‍वी के रथ बनाए गए बस को किसी दूसरे के नाम पर खरीदने से संबंधित विवाद का ठेठ अंदाज में जवाब माना जा रहा है। जदयू नेता व मंत्री नीरज कुमार ने आरोप लगाया गया था कि तेजस्‍वी की रथ यात्रा के लिए गरीबी रेखा के नीचे के एक व्‍यक्ति के नाम पर बस की खरीद की गई है। आरजेडी ने इस आरोप को तत्‍काल खारिज किया था।

आधुनिक सुविधाओं से लैस है राजद का रथ
यात्रा के लिए तैयार रथ को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया गया है। इसमें 10-12 लोगों के बैठने की व्यवस्था है। रथ में आराम करने का भी इंतजाम है। यात्रा के दौरान सभा के लिए अलग से मंच बनाने की जरूरत नहीं होगी। रथ में हाइड्रोलिक सिस्टम लगा है, जिससे तेजस्वी बस की छत पर पहुंचेंगे और लोगों को संबोधित करेंगे।

यह खबर भी पढ़े: ज्वेलरी शॉप में बड़ी लूट, लाइनर समेत 6 गिरफ्तार

यह खबर भी पढ़े: एससी, एसटी, ओबीसी के आरक्षण पर कोर्ट के फैसले के विरोध में चाकसू बंद के तहत निकाली रैली, सैकड़ों लोगों ने लिया भाग

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended