संजीवनी टुडे

कुशीनगर: गर्मियों में भी लबालब भरी रहेगी बुद्धकालीन हिरण्यवती नदी

संजीवनी टुडे 21-10-2020 16:40:54

कुशीनगर की बुद्धकालीन हिरण्यवती नदी को गर्मियों में पानी से लबालब रखने की योजना पर प्रशासन ने कार्य करना शुरू कर दिया है।


कुशीनगर। कुशीनगर की बुद्धकालीन हिरण्यवती नदी को गर्मियों में पानी से लबालब रखने की योजना पर प्रशासन ने कार्य करना शुरू कर दिया है। बुधवार को जिलाधिकारी भूपेश एस चौधरी ने नदी का निरीक्षण किया और ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को इस दिशा में कार्य शुरू कराने का निर्देश दिया। योजना के तहत नदी को पानी के लिए अगल बगल से गुजर रही नहरों व नदियों से जोड़ा जाएगा। 

नदी के वेटलैंड में पौधरोपण कर सुरम्य स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र इस नदी में बरसात के दिनों को छोड़कर शेष दिनों में पानी का अभाव रहता है। जिससे पर्यटकों व बौद्ध धर्मावलम्बियों को मायूसी होती है। ऐसे में प्रशासन ने बगल के ग्राम परासखाड़ से गुजर रही छोटी गंडक नहर व पकवाइनार की नहर को हिरण्यवती नदी में मिलाने की योजना बनाई है। यानी प्राकृतिक रूप से व सिंचाई नहर प्रणाली से नदी को जोड़ा जाएगा, जिससे बर्ष भर नदी में पानी भरा रहे। 

नदी के वेटलैंड में प्रशासन ने पौधरोपण भी शुरू करा दिया है। कच्चे पाथ वे भी बन रहे हैं। सुरम्य वातावरण में पर्यटक वाकिंग, जॉगिंग, ध्यान-योग भी कर रहे हैं। नदी में पानी भरने की योजना के कारगर होते ही भविष्य में लोगों को बोटिंग की भी सुविधा हो जाएगी, जिससे ऐतिहासिक नदी का अस्तित्व अक्षुण्य रखा जा सकेगा ही सैलानियों को घूमने फिरने को एक खूबसूरत नैसर्गिक जगह मिल जायेगी। 

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट पूर्ण बोहरा ने बताया कि योजना बनाने के लिए जल्द ही सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक होगी। नदी को उसके मूल स्वरूप में लाने के लिए प्रशासन सभी कदम उठाएगा। बुद्ध ने देह त्याग पूर्व किया था। जल ग्रहण:हिरण्यवती नदी का ऐतिहासिक महत्व है। बुद्ध के अंतिम संस्कार स्थल मुकुटबन्धन चैत्य इस नदी के तट पर स्थित है। देह त्याग के पूर्व गौतम बुद्ध ने नदी जल का सेवन किया था। कुशीनगर आने वाले दुनिया भर के बौद्ध धर्मावलम्बी नदी जल से आचमन करते है। प्रशासन ने सैलानियों की सुविधा के लिए नदी तट पर घाट भी बनवाए हैं। 

यह खबर भी पढ़े: बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड को डेट पर बुलाया, 23 दोस्तों के साथ पहुंची प्रेमिका ने पहुंचाया 2 लाख का बिल,फिर आगे क्या हुआ जानकर आप भी...

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended