संजीवनी टुडे

कोविड-19 नाम से चेतावनी हो रही वायरल, संक्रमित हुए तो लापरवाही पड़ेगी भारी

संजीवनी टुडे 10-04-2020 15:53:48

कोरोना महामारी से संक्रमण के बचाव के लिए जनजागरूता के लिए नये-नये प्रेरक स्लोगन सरकार व समाजसेवी संगठन अपना रहे हैं।


फतेहपुर। कोरोना महामारी से संक्रमण के बचाव के लिए जनजागरूता के लिए नये-नये प्रेरक स्लोगन सरकार व समाजसेवी संगठन अपना रहे हैं। जिससे लोग महामारी से बचने के लिए प्रेरित होकर लॉकडाउन का पालन करे और स्वयं बचे साथ में दूसरों में संक्रमण फैलने का कारण न बने। इसी जनजागरुता के लिए एक कोविड-19 नाम से नौ प्वाइंट का एक पेपर प्रिंट चेतावनी मैसेज जिले में खूब वायरल हो रहा है।

जिले में कोविड-19 नाम से वायरल हो रहे एक पेपर प्रिन्ट मैसेज में नौ प्वाइंट से लॉकडाउन के पालन का महत्व लोगों को समझाया जा रहा है। पहले प्वाइंट में कहा गया कि यदि लॉकडाउन के पालन में लापरवाही की तो अकेले ही ईलाज के लिए अस्पताल जाना पड़ेगा। दूसरे प्वाइंट के अनुसार अस्पताल में आईसोलेशन में अकेले ही रहना होगा। तीसरे प्वाइंट के अनुसार घर, परिवार व मित्र कोई भी तीमारदारी के लिए नहीं आयेगा और न घुसने ही दिया जायेगा। चौथे में कहा गया कि घर के भी किसी भी सदस्य को खाना देने व देखने की भी अनुमति नहीं मिलेगी। पांचवां जीवन का टर्निंग प्वाइंट है यदि आप ठीक हुए तो घर वापस आने की अनुमति मिलेगी और यदि न ठीक हुए और ऊपर वाले के प्यारे हो गये तो फिर दुबारा किसी से मिल नहीं पायेंगे। 

छठवें प्वाइंट में कहा गया कि आपके लिए स्वर्ग के रास्ते इसलिए बंद हो जायेंगे क्योंकि आपके घर का कोई भी व्यक्ति आपके शव का अंतिम संस्कार नहीं कर सकेंगे।आपका अंतिम संस्कार अस्पताल के लोग ही करेंगे। सातवें प्वाइंट के अनुसार आपके मौत की सूचना आपके घर सिर्फ से बता कर पूरी कर दी जायेगी। आठवां प्वाइंट बेहद मार्मिक है जिसके अनुसार आपकी न अंतिम यात्रा होगी जिसमें आपके अपने घाट तक शरीक हो पायेंगे न ही घर के लोग अश्रुपूरित विदाई दे पायेंगे और न ही कोई आपके अन्तिम दर्शन कर पायेगा। नवें व अन्तिम प्वाइंट कहा गया कि उक्त कारण क्या कम हैं। जिनके लिए आप लॉकडाउन का पालन न करें।

इस वायरल हो रही चेतावनी पर शिक्षक व समाजसेवी शहर के कलक्टरगंज निवासी सतीश द्विवेदी ने कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमित व्यक्ति की वीभिषिका का कडुवा सच बयां करती यह चेतावनी जानकर भी जो लॉकडाउन के पालन के लिए प्रेरित न हो। वह एक इन्सान के कहलाने का हक नसी रखता। 

उन्होंने कहा कि यह चेतावनी एक पारिवारिक व सामाजिक जीवन को महत्व देने व उससे प्रेम करने वाले की अंर्तआत्मा को झकझोरने वाली है। जिसकी प्रेरणा से एक संवेदनशील व जिम्मेदार नागरिक कभी भी लॉकडाउन का उल्लंघन नही कर सकता। ऐसी चेतावनी अप्रत्यक्ष रूप से लोगों को बहुत प्रेरित करती है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि इस चेतावनी को अवश्य ही बेवजह बाहर निकलने वाले कुछ लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए घर में रहने के लिए प्रोत्साहित होगे।

यह खबर भी पढ़े: लॉकडाउन के बीच बेबसी में 'सपेरों' को राहत का इंतजार, टूट रही है प्रियंका गांधी से बंधी आस

यह खबर भी पढ़े: कोरोना संकट: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता को बंधाया ढांढस

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended