संजीवनी टुडे

वोटरों को लुभाने के लिए खुद चुनावी गीतों की रचना करने में जुटे केसीआर

संजीवनी टुडे 08-11-2018 17:08:11


हैदराबाद। तेलंगाना राज्य के आंदोलन के दौरान तेलंगाना राष्ट्र समिति के नेता और मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने कई गीत लिखे थे जो उस समय लोकप्रिय भी हुये थे। इन गीतों में उन्होंने बताया था कि कैसे तेलंगाना के साथ लूट-खसोट हो रही है और कैसे यहां के लोगों के हितों की अनदेखी की जा रही है। उस वक्त केसीआर द्वारा लिखे गये गीत आंदोलनकारियों की जुबान पर होते थे। 

अब तेलंगाना विधानसभा चुनाव के मद्देनजर वोटरों को लुभाने के लिए केसीआर एक बार फिर नए गीत रचने में लगे हुये हैं। इस बार उनके गीतों में तेलंगाना का दर्द नहीं बल्कि पिछले चार सालों में तेलंगाना राष्ट्र समिति की सरकार द्वारा किये गये विकास की गाथा कही जाएगी। यह गीत तेलंगाना राष्ट्र समिति के चुनाव अभियान का मुख्य हिस्सा होंगे। 

केसीआर इन दिनों छह गीतों पर आधारित एक एलबम को अंतिम रूप देने में लगे हुये हैं। इनमें से दो गीत उन्होंने खुद लिखे हैं जबकि बाकी के चार गीत सुडाला अशोक तेजा, मातेपल्ली और गोरेती वेंकन्ना द्वारा लिखे गये हैं। केसीआर ने एलबम में शामिल अन्य गीतकारों के गीतों को प्रभावशाली बनाने के लिए न सिर्फ उनमें संशोधन किया है बल्कि उनकी धुनों को भी तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। तेलंगाना के विकास की कहानी बयां करने करने वाला यह एलबम बहुत जल्द ही लोगों के सामने आने वाला है। एलबम को प्रभावशाली तरीके से पेश करने के लिए उन्होंने यह भी बताया है कि इन गीतों को किस अंदाज में गाया जाना चाहिए। 

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इन गीतों में वृद्धा पेंशन योजना, मिशन भागीरथ और कल्याण लक्ष्मी योजना के बारे में बताया गया है कि कैसे सरकार द्वारा चलाई गई इन योजनाओं की वजह से तेलंगाना के लोगों की जिंदगी आसान हुई है। इन गीतों में उन्होंने खुद को परिवार के मुखिया के तौर पर पेश किया है। साथ ही युवाओं और महिलाओं की तरक्की पर विशेष ध्यान देने की बात कही है। 

sanjeevni app

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended