संजीवनी टुडे

बीमार पिता को साइकिल पर बिठाकर 1200 किलोमीटर के रास्ते को पार करने वाली ज्योति की अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप ने की तारीफ और कहा...

संजीवनी टुडे 23-05-2020 07:39:34

कोरोना संकट के दौर में देश भर से प्रवासी मजदूरों और कामगारों का अपने-अपने घरों को लौटने का सिलसिला जारी है। इसी बीच इस वक्त 15 साल की ज्योति कुमारी की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं


नई दिल्ली। कोरोना संकट के दौर में देश भर से प्रवासी मजदूरों और कामगारों का अपने-अपने घरों को लौटने का सिलसिला जारी है। इसी बीच इस वक्त 15 साल की ज्योति कुमारी की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं और हर तरफ उनकी मिसाल दी जा रही है। कई बड़ी हस्तियों द्वारा उनकी तारीफ होने के बाद अब अमेरिकी राष्ट्रपति की बेटी इवांका ट्रंप भी उनकी मुरीद हो गई है और ट्वीट कर उनकी तारीफ की है।
Corona crisis
 
इवांका ने ट्वीट कर लिखा, ' 15 साल की ज्योति लॉकडाउन में अपने पिता मोहन पासवान को साइकिल पर बिठाकर 1,200 किलोमीटर से ज्यादा की दूरी सात दिन में तय करके गुरुग्राम से बिहार के दरभंगा पहुंची थी। धीरज और प्रेम के इस खूबसूरत अहसास ने भारतीय लोगों और साइकिल फेडरेशन की कल्पना को दर्शाया है! 
 
ऐसे में ज्योति ने भी एक ऐसा साहसी कदम उठाया जिसे देख-सुनकर हर कोई हतप्रभ है। ज्योति के पिता मोहन पासवान कुछ महीने पहले एक हादसे में जख्मी हो गए थे, इसलिए वो अपने दम पर घर पहुंचने में असमर्थ थे। 
 
Corona crisis
लॉकडाउन में पिता के फंसे होने से बेटी ज्योति परेशान हो गई और एक दिन खुद ही साइकिल उठाकर पिता को पीछे बिठाकर हजारों किलोमीटर के एक कठिन सफर पर निकल पड़ी। ज्योति ने बताया कि उसने पापा को साइकिल पर बिठाकर 10 मई को गुरुग्राम से चलना शुरू किया और 16 मई की शाम घर दरभंगा पहुंच गई। रास्ते में उसे बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ा, हालांकि कुछ लोगों ने उनकी मदद भी की।
 
ज्योति ने सात दिनों में ही पिता को साइकिल के पीछे बिठाकर 1200 किलोमीटर का रास्ता नाप दिया। पिता के लिए ज्योति के इस समर्पण और प्रेम ने सभी को अभिभूत किया और हर किसी ने उनकी अपने-अपने तरीके से तारीफ और हौसलाफजाई की।

यह खबर भी पढ़े: मध्यप्रदेश: संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढ़कर हुई 6170, अब तक 272 लोगों की हो चुकी मौत

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended