संजीवनी टुडे

पत्रकारिता पेशा नहीं, समाज सेवा का जरिया : सुभाष सिंह

संजीवनी टुडे 25-05-2019 18:18:47


लखीमपुर-खीरी। आज हमारा दायित्व औरों से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण है। पत्रकार समाज का आईना होते हैं। पत्रकारिता कोई पेशा नहीं है, यह समाज सेवा है। हमें खबर लिखते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि इसका देश और समाज पर कैसा प्रभाव पड़ेगा।

 ये बातें राज्य सूचना आयुक्त सुभाष सिंह ने कही। वे आद्य पत्रकार देवर्षि नारद जयंती समाराेह में शनिवार को जिला सहकारी बैंक के सभागार में आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। सूचना आयुक्त सिंह ने कहा कि हर पेशे में आज गिरावट आई है, लेकिन पत्रकारिता कोई पेशा नहीं है। अगर पत्रकार अपने काम को पूर्ण ईमानदारी से करता है तो देश में बड़े बदलाव हो सकते हैं। आज अखबारों में नकारात्मक खबरें ज्यादा छापी जाती हैं और सकारात्मक खबरें अखबार में देखने को नहीं मिल रही हैं, जो समाज एवं देश के विकास में सहायक हो सके। 

उन्होंने कहा कि देश में आज बहुत कुछ अच्छा हो रहा है, लेकिन अखबारों में जगह नहीं दी जाती। हम सकारात्मक खबरों को प्रमुखता से प्रकाशित करें और उनके संकलन में अपना पूर्ण योगदान दें। 

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि ‘हिंदुस्तान समाचार’ के राज्य ब्यूरो प्रमुख राजेश तिवारी ने कहा कि देवर्षि नारद ब्रह्मांड के पहले पत्रकार थे। वे एक साहित्यकार भी थे। उन्होंने देवताओं, राक्षसों और मानव जाति के बीच समाचारों का आदान-प्रदान किया। न सिर्फ समस्याओं से एक दूसरे को अवगत कराया, बल्कि उसका निराकरण भी बताया। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

उन्होंने कहा कि देश का पहला अखबार उदंत मार्तंड भी नारद जयंती पर ही शुरू किया गया था, जिसके पहले पन्ने पर देवर्षि नारद की फोटो छापी गई थी। पत्रकारिता और पत्रकारों के लिए देवर्षि नारद एक आदर्श हैं। कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ पत्रकार नंद कुमार मिश्रा, नवीन अवस्थी, राजेंद्र सिंह और रामेश्वरी दीक्षित को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया के कई प्रमुख पत्रकार मौजूद रहे। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended