संजीवनी टुडे

जींद की दोबारा बारी है, जींदवासियों की पूरी तैयारी है

संजीवनी टुडे 14-02-2019 17:29:28


जींद। मुख्यमंत्री के स्पेशल अधिकारी व एडीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि पहला सुख निरोगी काया है। स्वस्थ शरीर मनुष्य के जीवन की उत्तम पूंजी है। इसलिए मनुष्य को चाहिए कि वह अपने जीवन में दौड़ जरूर लगाएं। इसी उदेश्य को लेकर 23 फरवरी को जींद में मैराथन का आयोजन करवाया जा रहा है। जिसमें हजारों की संख्या में भाग लें ताकि जींद की जिंदादिली की आवाज पूरे देश में फैले। एडीजीपी ओपी सिंह गुरूवार को गांव छात्तर के युवाओं व लोगों को संबोधित कर रहे थे। एडीजीपी ने गांव के पंचायती व समाजिक तथा यूथ के युवाओं के साथ छात्तर गांव से डाहौला तक पांच किलोमीटर की दौड़ भी लगाई। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

छात्तर गांव में पहुंचने पर सरपंच पुरूषोत्तम कुमार ने गांव की पूरी पंचायत व अन्य लोगों ने एडीजीपी उनका स्वागत किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि आदमी किसी भी स्टेटस का क्यों ना हो अपने स्वास्थ्य का ध्यान स्वयं को ही रखना होता है। अच्छा स्वास्थ्य बाजारों में तो मिलता नहीं यह तो मेहनत के बलबूते पर अर्जित करना पड़ता है। उन्होंने रन खेल को स्वास्थय के लिए सबसे अच्छा व सस्ता साधन बताते हुए कहा कि इस खेल के लिए कोई मैदान व अन्य खर्चे की जरुरत नहीं है। कोई अभिवावक अपने बच्चो को संस्कारवान व सही रास्ते पर लगानें में कामयाब होता है तो वह भी राष्ट्र के उत्थान में उसका योगदान है। डीपी व पीटीआई की जाट स्कूल सभागार में ली बैठक जाट सीनियर सैकेंडरी स्कूल सभागार में एडीजीपी ओपी सिंह ने 23 फरवरी को जींद में होने वाली जींद मैराथन को लेकर जिला जींद शिक्षा विभाग के सभी स्कूलों में कार्यरत डीपी व पीटीआई की बैठक ली। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उन्होंने सभी को मैराथन में ज्यादा से ज्यादा संख्या में भाग लेने को कहा तथा स्कूली बच्चों व खिलाडिय़ों को भी जींद मैराथन के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करवा कर दौड में भाग लेने के लिए प्रेरित किया। सभी ने एक स्वर में आवाज लगाते हुआ आश्वासन दिया कि वह हजारों की संख्या में बच्चों व खिलाडिय़ों को मैराथन में जोडऩे का काम करेंगें। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी अजीत श्योराण, डीईईओ बह्मप्रकाश राणा, स्कूल प्रधानाचार्य सौरभ भारद्वाज, जींद ब्लॉक के सभी खंड शिक्षा अधिकारी, एनएसएस कोर्डिनेटर हंसवीर रेढू, डीएसपी आदर्शदीप सिंह, पवन कपूर के अलावा सभी अधिकारीगण मौजूद थे। एडीजीपी ने कहा कि वह ज्यादा से बच्चों का डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट जींदमैराथन डॉट कॉम पर रजिस्ट्रेशन करवाएं ताकि हजारों की संख्या में लोग इस मैराथन का हिस्सा बन सकें। 

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended