संजीवनी टुडे

जदयू ने दी मुंगेर पुलिस फायरिंग पर सफाई, कहा- दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वह कोई भी हो

संजीवनी टुडे 28-10-2020 16:18:47

मुंगेर पुलिस फायरिंग के बाद से बिहार में राजनीति गर्म है। चिराग पासवान, तेजस्वी यादव से लेकर कांग्रेस के नेता तक नीतीश सरकार पर हमलावर हो रहे हैं


पटना। मुंगेर पुलिस फायरिंग के बाद से बिहार में राजनीति गर्म है। चिराग पासवान, तेजस्वी यादव से लेकर कांग्रेस के नेता तक नीतीश सरकार पर हमलावर हो रहे हैं और मुंगेर की एसपी लिपि सिंह पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। इस बीच जदयू का बयान सामने आया है। जदयू नेता अजय आलोक ने कहा कि मुंगेर की घटना दुखदायी है लेकिन एक बात तय है कि जो लोग भी ज़िम्मेदार हैं, चाहे वो बड़े अफसर ही क्यों न हों, किसी को नहीं छोड़ा जाएगा। उनकी जवाबदेही तय होगी। जांच के लिए टीम मुंगेर रवाना हो गई है। अजय अलोक ने कहा कि इंतज़ार कीजिए, दूध का दूध और पानी का पानी होगा। इस मामले में राजनीतिक रोटी सेंकने वालों को ख़ुश नहीं होना चाहिए।

बता दें कि मुंगेर में पुलिस  26 अक्टूबर को जबरन मूर्ति विसर्जन करा रही थी। इसका जब लोगों ने विरोध किया तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इसके बाद  लोग हंगामा करने लगे तो पुलिस ने फायरिंग शुरू कर दी जिसमें एक युवक के सिर में गोली लगी और उसकी मौत हो गई।  पांच लोग गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए। यह घटना मुंगेर के दीन दयाल चौक के पास हुई। मुंगेर के लोगों ने पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाये हैं। लोगों का कहना है कि पहले से परंपरा रही है कि पहले बड़ी देवी की  मूर्ति का विसर्जन होता है। उसके बाद छोटी मूर्ति का विसर्जन किया जाता है लेकिन पुलिस जबरन विसर्जन करा रही थी। पुलिस ने इस दौरान बेरहमी से लोगों की पिटाई भी की है। रोज पांच पिस्टल के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाली मुंगेर एसपी लिपि सिंह इस घटना के बाद खामोश हो गई हैं। पुलिस की बर्बरता पर एक भी शब्द नहीं बोल रही हैं। पुलिस की बर्बरता के बारे में उनपर तथ्य छुपाने के भी आरोप लग रहे हैं। जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें साफ दिख रहा है कि लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर पुलिस पीट रही है। इसके बाद भी कुछ लोग नहीं भागे और वे मूर्ति के साथ बैठे रहे। ऐसे लोगों की पुलिस जानवर की तरह पिटाई कर रही है। नाराज लोगों ने लिपि सिंह को हटाने की मांग की है। लोगों ने कहा कि वह इसको लेकर पीएम मोदी से लेकर चुनाव आयोग तक शिकायत करेंगे। दूसरी ओर  मुंगेर की एसपी ने पुलिस फायरिंग से  इनकार किया है और कहा कि यह फायरिंग भीड़ की ओर से की गई है। इस हमले में थानेदार समेत करीब 20 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। यहाँ यह उल्लेखनीय है कि मुंगेर की एसपी लिपि सिंह जदयू के कद्दावर नेता और राज्यसभा सदस्य आरसीपी सिंह की बेटी हैं। आर सी पी सिंह को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बेहद करीबी माना जाता है।

यह खबर भी पढ़े: फिल्म 'लूडो' में बिट्टू का किरदार निभा रहे अभिषेक बच्चन, इंस्टा पर शेयर की तस्वीर

यह खबर भी पढ़े: सीमा विवाद पर अमेरिका के भारत के साथ खड़े होने से बौखलाया चीन

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended