संजीवनी टुडे

कोचिंग क्लासों के आस-पास यातायात को बेहतर बनाने के निर्देश

संजीवनी टुडे 17-05-2019 21:43:19


ग्वालियर। शहर में संचालित शैक्षणिक कोचिंग क्लासों के आस-पास यातायात प्रभावित न हो, इसके साथ ही कोचिंग क्लास के आस-पास का माहौल बेहतर बना रहे, यह जवाबदारी कोचिंग संचालकों की है। कलेक्टर अनुराग चौधरी एवं पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने शुक्रवार को पुलिस कंट्रोल रूम में कोचिंग संचालकों की बैठक लेकर उक्त निर्देश दिए। बैठक में जिला पंचायत सीईओ शिवम वर्मा, एडिशनल एसपी सहित पुलिस के अधिकारी व कोचिंग संचालक उपस्थित थे। 

कलेक्टर चौधरी ने कोचिंग संचालकों से कहा है कि जिन भवनों में कोचिंग संचालित की जा रही हैं, वह सुरक्षित हैं कि नहीं, यह सुनिश्चित किया जाए। इसके साथ ही कोचिंग क्लास के पास पर्याप्त वाहन पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित हो। फायर सेफ्टी के साथ ही सभी कोचिंग संस्थाएं अपने यहाँ सीसीटीव्ही कैमरों के माध्यम से मॉनीटरिंग कराएं। उन्होंने निर्देशित किया गया कि कोचिंग क्लास के आस-पास कोई भी अवांछनीय तत्व एकत्र होते हैं तो उसकी सूचना तत्काल पुलिस हैल्पलाइन तथा डायल 100 पर दी जाए। संचालक स्वयं भी अपने आस-पास के माहौल की मॉनीटरिंग करे।

उन्होंने कहा कि कोचिंग में आने वाले सभी छात्र-छात्राओं का सम्पूर्ण डाटा कोचिंग संचालकों के पास होना चाहिए। कोचिंग में आने वाले बच्चे अगर अनुपस्थित हैं तो उसकी सूचना एसएमएस के माध्यम से अभिभावकों के पास भी पहुँचे, ऐसी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाना चाहिए। लम्बे समय तक अनुपस्थित रहने वाले छात्र-छात्राओं के अभिभावकों से कोचिंग संचालक स्वयं चर्चा कर उनकी अनुपस्थिति के संबंध में जानकारी लें। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने कोचिंग संचालकों से कहा है कि वे अपने कोचिंग की विधिवत अनुमति लें तथा जिन भवनों में कोचिंग संचालित हो रही हैं, उनका व्यवसायिक पंजीयन भी अनिवार्यत: कराएं। कोचिंग में पढऩे वाले छात्र-छात्राओं को कोचिंग संचालक अनिवार्यत: परिचय पत्र भी प्रदान करें। 

पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने भी कोचिंग संचालकों से कहा कि कोचिंग क्लासों में देश का भविष्य तैयार हो रहा है। देश का भविष्य गलत दिशा में न जाए, इसकी जवाबदारी भी कोचिंग संचालकों की है। पुलिस प्रशासन छात्र-छात्राओं की सुरक्षा हेतु सदैव तत्पर है। किसी भी प्रकार की जानकारी मिलने पर स्कूल संचालक पुलिस को सूचित करे। पुलिस द्वारा प्रभावी कार्रवाई की जायेगी। यातायात को व्यवस्थित बनाए रखने में कोचिंग संचालक भी अपनी सकारात्मक भूमिका का निर्वहन करें। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

कलेक्टर एवं एसपी ने मतगणना स्थल का किया निरीक्षण 

कलेक्टर अनुराग चौधरी एवं पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने शुक्रवार की शाम एमएलबी कॉलेज पहुँचकर 23 मई को होने वाली मतगणना की तैयारियों का निरीक्षण किया। उन्होंने सभी मतगणना कक्षों का निरीक्षण कर कक्षों की बैठक व्यवस्था और विद्युत आदि की व्यवस्थाओं को देखा। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि 23 मई को मतगणना देर रात तक संभावित है। कक्षों में पर्याप्त रोशनी होने के साथ ही बैठक व्यवस्था भी बेहतर होना चाहिए। मतगणना स्थल पर पीने के पानी की व्यवस्था एवं अन्य व्यवस्थाओं पर विशेष ध्यान दिया जाए। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended