संजीवनी टुडे

मप्र टूरिज्म एवं काउंसिल की पहल, अब केरवा जंगल में लगेगा समर कैम्प-2020

संजीवनी टुडे 20-02-2020 22:29:02

मध्यप्रदेश टूरिज्म एवं काउंसिल द्वारा समर कैम्‍प 2020 का आयोजन अब केरवा जंगल में किया जायेगा।


भोपाल। मध्यप्रदेश टूरिज्म एवं काउंसिल द्वारा समर कैम्‍प 2020 का आयोजन अब केरवा जंगल में किया जायेगा। कैम्‍प के माध्यम से स्कूली छात्र-छात्राओं और आदिम जाति के छात्रावासों के बच्चों को प्रशिक्षण सहित विभिन्न स्‍पर्धाएं कराई जायेंगी। यह जानकारी जिला कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने होटल पलाश में गुरुवार को आयोजित मध्यप्रदेश टूरिज्म एवं काउंसिल की बैठक में दी। 

बैठक में कलेक्‍टर ने निर्देश दिए कि इस समर कैम्‍प में स्कूल, कॉलेजों से संपर्क कर सभी को आमंत्रित किया जाए। उन्‍होंने कहा कि पर्यावरण के प्रति जागरूकता बढ़ाने और संरक्षण करने के लिए यह महत्वपूर्ण होगा। पिथोड़े ने कहा कि सभी स्कूलों में वार्षिक परीक्षाओं के पश्चात मार्च अंत में समर कैम्प का आयोजन किया जायेगा, जिससे अधिक से अधिक छात्र-छात्राएं भाग ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि आदिम जाति और जिला शिक्षा अधिकारी इस संबंध में अपनी तैयारियां पूर्ण रखें। साथ ही बच्चों को चयनित कर केम्प में भाग दिलाना सुनिश्चित करें। उन्‍होंने कहा कि इस समर कैम्प के माध्यम से विद्यार्थियों को विभिन्न कलाओं में निपूर्ण बनाने के अलावा जागरूक करना भी है।

कलेक्टर ने आगामी त्यौहारों के दृष्टिगत होली पर्व पर नागरिकों को जागरूक करने की बात कही। उन्होंने कहा कि होलिका दहन इस बार गौकाष्ठ से किया जाये, जिससे पर्यावरण को बचाया जा सके। उन्‍होंने कहा कि पर्यावरण को बचाने के लिए कई सामाजिक संस्थाएं भी इस ओर अपने कार्य कर रहीं हैं। होली पर पानी का दुरूपयोग रोकें और होली पर हानिकारक रंगों से बचकर टेसू के फूलों से होली खेलें। इससे कैंसर, त्वचा रोग और आंखों के रोगों से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि रैली, नुक्कड़ नाटकों के माध्यम से भी आम जनों को जागरूक किया जाये।

पिथोड़े ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण आज जरूरी है, इसके दुष्प्रभावों से बचने के लिए हमें एकरूपता से कार्य करना है। साथ ही जागरूक बनने की दिशा में अग्रसर होना है। स्कूली विद्यार्थी इस और विशेष पहल कर शहर के नागरिकों को जागरूक करने में अपनी भूमिका निभायें। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी समाज की दिशा बदल सकता है और पर्यावरण को भी बचा सकता है, हमें जागरूक होना है और आमजनों को भी जागरूक करना है। कलेक्टर ने सभी शहरवासियों से होलिका दहन में गौकाष्ठ का उपयोग करने की अपील की। बैठक में डीआईजी इरशाद वली, वरिष्ठ आईएफएस अधिकारी रमेश प्रताप सिंह, नगर निगम कमिश्नर विजय बी दत्ता, डीएफओ हरीशचंद्र मिश्रा, अनुविभागीय अधिकारी, काउंसिल के सदस्यों सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़े: निजी स्कूल में 11वीं की छात्रा से सीनियर छात्र ने किया दुष्कर्म, आरोपी के खिलाफ केस दर्ज

यह भी पढ़े: खूंटी जेल में परिणय सूत्र में बंधे प्रेमी युगल

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended