संजीवनी टुडे

बेहतर बिजली व्यवस्था के लिए की दरों में वृद्धि: रमाशंकर सिंह पटेल

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 12-09-2019 19:08:17

रमाशंकर सिंह पटेल ने गुरुवार को यहां कहा कि बेहतर बिजली व्यवस्था के लिए उसकी दरों में वृद्धि की गई है।


वाराणसी। उत्तर प्रदेश के ऊर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर सिंह पटेल ने गुरुवार को यहां कहा कि बेहतर बिजली व्यवस्था के लिए उसकी दरों में वृद्धि की गई है। पटेल ने विद्युत विभाग के अधिकारियों के साथ वाराणसी मंडल की विद्युत व्यवस्था की समीक्षा के बाद संवादताओं को संबोधित किया। उन्होंने राज्य में बिजली की दरों में वृद्धि को जायज ठहराते हुए कहा कि जनता बेहतर बिजली व्यवस्था चाहती है। सरकार ने दरों में वृद्धि जनता को अधिक सुविधा देने के उद्देश्य से की है। ज्यादातर लोगों को बिजली की दरों में वृद्धि से कई शिकायत नहीं है।

यह खबर भी पढ़ें: ​भूजल पुनर्भरण की योजना मारवी को अपना रहे है कई देश-सिंह

उन्होंने वाराणसी में बार-बार अघोषित बिजली कटौती के सवाल पर कहा कि यह अस्थायी समस्या मांग एवं आपूर्ति के अलावा आपूर्ति व्यवस्था में खराबी के कारण पिछले दिनों लोगों कुछ परेशानियां हुई थीं, जिसे अब दूर कर लिया गया है। अब ऐसी समस्या नहीं आएगी और पूर्व निर्धारित योजना के तहत गांव, शहर एवं महानगर इलाके में बिजली की आपूर्ति बिना किसी बाधा के 15, 20 और 24 घंटे की जा रही है।

पटेल ने कहा अब शहर से लेकर गांव तक बिजली एक जरूरत बन गई है तथा राज्य सरकार 2022 तक गांवों में भी 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रही है।

ऊर्जा राज्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि रात में कटौती बिल्कुल नहीं की जाए। ट्रांसफार्मर 24 से 48 घंटे के बीच में बदले जाएं और उपभोक्ताओं की शिकायत प्राथमिकता के आधार पर हल किये जाएं।

उन्होंने विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता स्तर के अधिकारियों को क्षेत्र में भ्रमण करने एवं एसडीओ, जेई और लाइनमैन के कार्यों पर निगाह रखने के निर्देश दिए हैं। निचले स्तर पर छोटी-छोटी कमियों, खराबी आदि गंभीरता से लेते हुए उसे हल की जाए ताकि जनता के बीच सरकार की अच्छी छवि बनी रहे।

पटेल ने कहा कि किसानों को खेती के उपयोग के लिए दिन में बिजली सप्लाई की व्यवस्था की गई है। इसके लिए अलग किसान फीडर लगाए गए हैं, जिनसे प्रातः पांच बजे से शाम सात बजे तक बिजली आपूर्ति की जाती है। किसान दिन में अपने सिंचाई के कार्य कर सकें और रात में आराम से सो सकें। इसी उद्देश्य से ये व्यवस्था की गई है।

उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि बिजली के जो भी कार्य पूर्ण हो, उनका स्थानीय सांसद एवं विधायक से उद्घाटन कराएं।

बैठक में विद्युत विभाग की पंडित दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना,सौभाग्य योजना,आईपीडीएस, बिजनेस प्लान आदि की बिंदुवार एवं जिलेवार समीक्षा हुई। समीक्षा के बाद राज्यमंत्री ने संतोष व्यक्त किया।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended