संजीवनी टुडे

कम्प्यूटर कमेटी ऑफ हाईकोर्ट्स की दूसरी राष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन

संजीवनी टुडे 08-12-2018 20:50:07

चंडीगढ़। हाईकोर्ट की कम्प्यूटर कमेटियों की दूसरी कॉन्फ्रेंस शनिवार को चंडीगढ़ की ज्यूडिशियल एकेडमी में हुई। इस कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जस्टिस हेमंत गुप्ता -सुप्रीम कोर्ट, जस्टिस कृष्णा मुरारी, चीफ़ जस्टिस,पंजाबियाणा हाईकोर्ट और माननीय जस्टिस सूर्या कांत, चीफ़ जस्टिस, हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट की हाजिऱी में किया गया। 
 
‘ई-कोर्टज़ प्रोजेक्ट-एक्सपलोरिंग न्यू होरायजऩस’ के विषय पर आधारित इस दो दिवसीय कॉन्फ्रेंस में ई-कोर्ट प्रोजेक्ट से सम्बन्धित सभी पक्षों जैसे न्याय विभाग, माननीय सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया की ई-कमेटी, हाईकोर्ट्स की कम्प्यूटर कमेटियों, सभी हाईकोर्ट के सेंट्रल प्रोजेक्ट कॉर्डिनेटर एवं एनआईसी जैसी सरकारी एजेंसियों की तरफ से ई-कोर्ट प्रोजेक्ट को सभ्यक ढंग से लागू करने संबंधी विचार-विमर्श किया जाएगा और कई अन्य सम्बन्धित मुद्दे विचारे जाएंगे।
 
इस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए जस्टिस हेमंत गुप्ता ने ‘कोर्ट से ई-कोर्ट’ तक भारतीय न्याय व्यवस्था पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि कैसे पहले पहल न्याय व्यवस्था में उच्च स्तरीय तकनीक का इस्तेमाल किए जाने को ना-मुनासिब समझा गया। उन्होंने ई-कोर्ट्स प्रोजेक्ट की कामयाबी और आम लोगों की तरफ से ई-सेवाओं से लाभ लिए जाने के पक्ष पर भी प्रकाश डाला। जस्टिस गुप्ता ने इस प्रणाली में और सुधार करने के लिए वकीलों और मुकदमे दायर करने वाले दावेदारों से सुझाव लेने की ज़रूरत पर भी ज़ोर दिया।
 
चीफ़ जस्टिस कृष्णा मुरारी ने बताया कि प्रत्येक केस संबंधी सूचना ऑनलाइन उपलब्ध होने से अब न्याय व्यवस्था में और भी ज़्यादा पारदर्शिता आई है क्योंकि अपने केस संबंधी ऑनलाइन जानकारी तक हरेक व्यक्ति की आसान पहुंच है। लोगों को उनके दरवाज़ों पर इंसाफ़ देने के संवैधानिक कर्तव्य की पूर्ति की तरफ ई-कोर्ट्स प्रोजेक्ट को एक बड़ा कदम करार देते हुए उन्होंने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट की कम्प्यूटर कमेटी को कम्प्यूटरीकरन के मामलों में हाईकोर्ट को आगामी पंक्तियों में लाने की भरपूर सराहना की।
 

More From state

Loading...
Trending Now