संजीवनी टुडे

वाराणसी में व्यापारी परिवार ने की सामूहिक आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा.....

संजीवनी टुडे 14-02-2020 12:27:40

आदमपुर थाना क्षेत्र के नचनी कुंआ मुकीमगंज में व्यापारी परिवार के सामूहिक आत्महत्या से मोहल्ले के लोगों के साथ व्यापारी भी स्तब्ध है।


वाराणसी। आदमपुर थाना क्षेत्र के नचनी कुंआ मुकीमगंज में व्यापारी परिवार के सामूहिक आत्महत्या से मोहल्ले के लोगों के साथ व्यापारी भी स्तब्ध है। 

शुक्रवार की सुबह दर्दनक घटना की जानकारी होते ही व्यापारी के घर के सामने भीड़ जुट गई। इस दौरान जब पुलिस एक—एक कर व्यापारी, उसके दोनों युवा बच्चों और पत्नी के शव का पंचनामा कर वाहन में रखवा रही थी यह हृदय विदारक दृश्य देख लोगों की आंखें गीली हो गई। 

एक साथ चार मौतों से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल रहा। मोहल्ले में लोग पंखा व्यापारी के मिलनसार स्वभाव को लेकर चर्चा कर रहे थे। मृत व्यापारी के पड़ोसी बाबूलाल यादव,मोनू यादव ने बताया कि चेतन खुश मिजाजी से मिलते थे। उधर जवान बड़े पुत्र और उसके परिवार के मौत से व्यापारी के पिता रविन्द्रनाथ तुलस्यान जड़वत हो गये। 

पड़ोसियों ने बताया कि पिता रविन्द्र बड़े पुत्र चेतन के साथ ही रहते थे। तीन पुत्रों में मझला आनन्द तुलस्यान अलग रहकर कारोबार करता है। वहीं तीसरा पुत्र परमानंद तुलस्यान गुजरात अपने ननिहाल में रहता है।

मोहल्ले में चर्चा रही कि चेतन व्यापार में घाटे और बकाए से परेशान रहा हाल के दिनों में गुमशुम भी दिखता था। इस हृदय विदारक घटना के पहले चेतन ने खुद इसकी जानकारी भोर में डायल 112 को दी। और इसके बाद आत्मघाती कदम उठाया। घटना के समय पिता और अन्य परिजन ऊपर छत वाले कमरे में सो रहे थे। 

आदमपुर पुलिस के अनुसार चेतन उनकी पत्नी रितु का शव फंदे से लटका हुआ मिला तो वहीं उनके बच्चे हर्ष और मानसी का शव कमरे से बरामद हुआ। शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। 

श्ए सएसपी प्रभाकर चौधरी ने पत्रकारों को बताया कि घटना स्थल से तीन पेज का सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

सुसाइड नोट में मरने के पूर्व व्यापारी ने लिखा है उसकी संपत्ति साले को दे दी जाए। हमारे परिवार की आर्थिक मदद वहीं हमेशा करता था। 

उल्लेखनीय है कि आज भोर में नचनीकुंआ में पंखे के व्यापारी चेतन तुलस्यान ने अपने दो बच्चों हर्ष (17) और बेटी हिमांशी (15) को नींद की गोली खिलाने के बाद गला घोट कर मार डाला। इसके बाद संभावना है कि पत्नी ऋतु को भी नींद की गोली खिलाकर मारने के बाद इसके बाद खुद फंदे से लटक कर अपने दोनों हाथों पर टेप बांध कर जान दे दी। घटना से प्रतीत हो रहा था कि चेतन ने पूरी तैयारी के साथ परिवार के आपसी सहमति से सामूहिक आत्महत्या किया। इसका भान ऊपर के कमरे में सोये पिता रविन्द्र को भी नहीं हो पाया। 

यह खबर भी पढ़ें:​ पुलवामा हमले का एक साल: राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर उठाए सवाल, पूछा- सबसे ज्यादा फायदा...

यह खबर भी पढ़ें:​ Happy Valentine's Day: आखिर 14 फरवरी को ही क्यों मनाया जाता हैं वैलेंटाइन डे, जानें इसकी रोचक दास्ता

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended