संजीवनी टुडे

केंद्रीय मंत्री के गोद लिए गांव मांडी के स्कूल में 28 में से दो बच्चे हुए दसवीं में पास, ग्रामीणों ने जड़ा स्कूल को ताला

संजीवनी टुडे 22-05-2019 18:10:58


जींद। केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह के गोद लिए मांडी गांव के राजकीय हाई स्कूल के दसवीं के परिणाम में 28 में से दो बच्चे ही पास होने पर बुधवार को ग्रामीणों ने स्कूल के गेट पर ताला जड़ दिया। जानकारी मिलने के बाद बीईओ पवन कुमार भोला पहुंचे। ग्रामीण स्कूल में कार्यरत पूरे स्टॉफ का तबादला करने की मांग पर अड़ गए। ग्रामीण के मौके पर डीईओ के पहुंचने की मांग पर डिप्टी डीईओ जगदीश चंद्र पहुंचे। यहां पर कार्यरत चपरासी सहित पांच कर्मचारियों का तबादला अस्थाई तौर पर करने के साथ-साथ दूसरे कर्मचारियों का एक सप्ताह के बाद तबादला करने का आश्वासन देने पर ग्रामीणों ने ताला खोला। 

स्कूल स्टॉफ को बाहर निकाल जड़ा गेट पर ताला  
हर रोज की तरह गांव सहित आस-पास के गांव से विद्यार्थी स्कूल पहुंचे। नौ बजे के करीब सरपंच प्रतिनिधि श्रवण की अगुवाई में ग्रामीण स्कूल पहुंचे। यहां स्कूल स्टॉफ को बाहर निकाल कर स्कूल गेट को ताला जड़ दिया। ग्रामीणों के साथ विद्यार्थी भी गेट के सामने धरने पर बैठ गए। ग्रामीणों ने स्कूल स्टॉफ पर आरोप लगाया गया कि यहां पर चपरासी से लेकर हर कर्मचारी राजनीति करता है। यहां पर गुट अध्यापकों द्वारा बनाए गए है जिससे यहां पर पढ़ाई वाला माहौल नहीं है। यहां विद्यार्थियों को पढ़ाने पर कम आपस में गुटबाजी बढ़ाने में स्टॉफ अधिक ध्यान देता है। 

तीन साल से परिणाम आ रहा है 
श्रवण, बलवान, कृष्ण, राकेश, महेंद्र नंबरदार, श्रवण, सतबीर, केहर ने बताया कि राजकीय स्कूलों का इस साल परीक्षा परिणाम बेहतर पूरे प्रदेश में आया है। यहां स्कूल में 10वीं कक्षा के 28 विद्यार्थियों में से दो ही पास हुए है। बीते तीन सालों से यहां पर बोर्ड परीक्षा परिणाम स्टॉफ में आपसी गुटबाजी के चलते प्रभावित हो रहा है। अध्यापक विद्यार्थियों की पढ़ाई की तरफ कोई ध्यान नहीं देते है। इसको लेकर उचाना बीईओ को लिखित रूप में पंचायत द्वारा स्टॉफ का तबादला करने की मांग 21 मई को लिखित रूप में दिया था। स्कूल में पढ़ाई प्रभावित न हो इसके लिए स्टॉफ के तबादला के लिए स्कूल गेट पर ताला जडऩा पड़ा।   

पुलिस थाना में भी दर्ज हो चुका है केस
ग्रामीणों ने बताया कि स्कूल स्टॉफ पढ़ाई की तरफ बिल्कुल ध्यान नहीं दे रहा है। यहां पर 2018 में दो टीचरों के बीच हुआ झगड़ा तो पुलिस थाना तक पहुंच गया था। आपस में बात मारपीट तक पहुंच गई थी। यह मामला भी पुलिस में दर्ज हुआ। यहां पर परीक्षा परिणाम निरंतर गिर रहा है। चपरासी तक गुटबाजी में लगा रहता है।   

इनका किया अस्थाई तबादला
स्कूल में कार्यरत एसएसएम (सामाजिक अध्यापक) वीरेंद्र का जीएसएसएस लोधर, कुसुम लता हिंदी अध्यापिका जीजीएसएसएस छातर, महीपाल मैथ टीचर जीएसएसएस छातर, सरिता एलए जीएसएसएस लोधर, कुलदीप चपरासी का सुदकैन खुर्द स्कूल अस्थाई तौर पर तबादला किया गया। राजबीर सिंह एसएसएम जीएसएसएस लोधर, इंद्रा देवी हिंदी टीचर जीजीएसएसएस छातर, प्रताप मैथ अध्यापक जीएसएसएस छातर, अनिल एलए जीएसएसएस लोधर का राजकीय हाई स्कूल मांडी में अस्थाई तबादला किया गया।  

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

पांच का किया अस्थाई तबादला
डिप्टी डीइओ जगदीश चंद्र ने बताया कि ग्रामीणों की मांग पर मांडी राजकीय हाई स्कूल के पांच कर्मचारियों को अस्थाई तबादला कर दिया गया है। सप्ताह के अंदर दूसरे कर्मचारियों का तबादला भी किया जाएगा। स्कूल में आपसी राजनीति से गुटबाजी करना बिल्कुल गलत है। परीक्षा परिणाम भी मांडी स्कूल का प्रभावित हुआ है। जो भी कार्रवाई विभाग के अनुसार बनती है वो भी अमल में लाई जाएगी।
 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended