संजीवनी टुडे

ऑनलाइन क्लास में बच्चे के साथ पिता भी ले रहे दिलचस्पी, ग्रुप में मैसेज के साथ वाइस रिकार्डिग भी भेज रहे

संजीवनी टुडे 03-06-2020 12:36:08

लॉकडाउन के कारण ऑन लाइन पढ़ाई जारी है। बच्चों से ज्यादा उनके पिता इसमें दिलचस्पी ले रहे हैं। बात यहीं तक होती तो कोई बात नहीं थी।


लखीमपुर-खीरी। लॉकडाउन के कारण ऑन लाइन पढ़ाई जारी है। बच्चों से ज्यादा उनके पिता इसमें दिलचस्पी ले रहे हैं। बात यहीं तक होती तो कोई बात नहीं थी। सिलसिला इससे भी आगे बढ़ रहा है। पढ़ाई कराने को बने ग्रुप में बच्चे के पिता मैसेज भी भेज रहे और वाइस रिकार्डिंग भी। साथ ही पढ़ाई के दौरान पढ़ाने वाली मैडम को रिझाने को तारीफे भी कर रहे हैं। 

लॉकडाउन के दौरान बच्चों को पढ़ाने का काम ऑनलाइन क्लासेस चलाकर और शिक्षक से ग्रुप बनाकर होम वर्क और अन्य तरह से किया जा रहा है, बाकी तो सबकुछ बेहतर ही चल रहा है परन्तु इसमें बच्चे के पिता भी दूसरी पढ़ाई करने में जुट गए हैं। शहरी स्कूलों के साथ ही बेसिक स्कूलों में बने ग्रुपों पर टीचरों को अब अलग तरह की ही परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस दिक्कत से बचने को कुछ ने ग्रुप को एडिमिनमोड पर भी कर लिया है। बहरहाल इससे भी काम नहीं बन पा रहा है। इसे लेकर महिला शिक्षिकाएं बेहद परेशान है हालांकि इस मामले में अभी तक कोई भी लिखित शिकायत विभागीय अधिकारियों से नहीं की गई। 

यह गलत है ऐसा नहीं होना चाहिए 

शिक्षक नेता मनोज का कहना है कि अगर इस तरह की बातें हो रही हैं तो बिल्कुल गलत है। अभिभावकों को ख्याल रखना चाहिए की टीचर उनके बच्चे के गुरु हैं। 

शिकायतें बढ़ेंगी तो करेंंगे शिकायत 

शिक्षक नेता संजीव त्रिपाठी ने कहा कि यह बहुत गलत है। ज्यादा बढ़ने पर अधिकारियों से मिलकर शिकायत दर्ज कराएंगे। साथ ही कार्रवाई भी होगी। 

ये कहते हैं जिम्मेदार 

बेसिक शिक्षा अधिकारी बुद्ध प्रीत सिंह ने बताया कि बहरहाल इस तरह की शिकायत अभी उन्हें  नहीं मिली है। शिक्षकों को पहले इस तरह के लोगों को समझाना चाहिए, फिर न मानें तो ब्लॉक कर दें। ज्यादा दिक्कत होने पर आगे कार्रवाई भी कराई जाएगी। 

यह खबर भी पढ़े: मध्यप्रदेश: कैलाश विजयवर्गीय को उपचुनाव की जिम्मेदारी मिलने पर बोले गृहमंत्री, ‘वह हमारे राष्ट्रीय स्तर के नेता’

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended