संजीवनी टुडे

कुम्भ में आये हो तो 'जल मंदिर' से पी लो शुद्ध पानी

संजीवनी टुडे 14-01-2019 15:06:03


कुम्भ नगरी। कुम्भ आये हैं और अगर शुद्ध पानी पीने को मन कर रहा है तो आप जल मंदिर तक जाएं। यहां आपको शुद्ध पेयजल मिलेगा। पूरे कुम्भ मेला क्षेत्र में 50 जल मंदिर स्थापित कर शुद्ध जल मुहैया कराया जा रहा है। दिव्य कुम्भ, भव्य कुम्भ में आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा के सेहत का भी ख्याल रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग अनेक अस्पतालों में बीमारों का इलाज कर रहा है तो जल निगम भी इसमें पीछे नहीं है। जल निगम ने खुद के अलावा अन्य सहयोगी संस्थाओं का भी साथ किया है। इनमें 'पीलो शुद्ध पानी फाउंडेशन' भी शामिल है।

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

फाउंडेशन ने कुम्भ मेला क्षेत्र में 50 स्थानों पर जल मंदिर स्थापित किया है। वाटर एटीएम की तरह काम करने वाला यह जल मंदिर, आरओ वाटर उपलब्ध कराएगा। यहां से निःशुल्क मिलने वाला शुद्ध पानी केवल एक बटन दबाकर निकाला जा सकता है और अपनी प्यास बुझाई जा सकती है। एक बार बटन दबाने पाए एक व्यक्ति की प्यास बुझाने भर का पानी यानी 250 मिली लीटर पानी से गिलास भर जाएगा। 500 लीटर स्टोरेज कैपिसिटी वाला यह जल मंदिर प्रति घंटे 300 लीटर शुद्ध पानी तैयार करने में सक्षम है। यह रहने वाला ऑपरेटर 24 घंटे सेवा को उपलब्ध रहेगा और मेलार्थियों की मदद करेगा। मेला क्षेत्र में बिजली काटने की गुंजाइश बनेगी तो भी यहां बिजली सप्लाई जारी रहने से शुद्ध पेयजल की सप्लाई प्रभावित नहीं होगी। इन जलमन्दिरों मे लिए अलग से 24 घंटे की सप्लाई का प्रबंध है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

सिक्स लेयर वाटर फिल्टर सिस्टम में लगा डबल मैम्ब्रिन द्वारा पानी को शुद्ध किया जाएगा। एक-एक डिस्क फिल्टर, माइक्रोन फिल्टर, अल्ट्रावायलेट फिल्टरेशन और सोलेनाइड वाल वाले जल मंदिर से निकाले गए पानी की आन लाइन सर्वर रिपोर्टिंग होती रहेगी। लोगों द्वारा दबाये गए बटन और खर्च हुए पानी के एक-एक बूंद पानी का हिसाब रहेगा। सर्विस इंजीनियर विशाल कुमार का कहना है कि इस सिस्टम से पानी को शुद्ध करने में अशुद्ध पानी का नुकसान भी कम ही होता है। महज 10 प्रतिशत पानी का नुकसान कर 90 प्रतिशत जल का उपयोग पीने के रूप में लिया जाता है। जबकि दूसरी विधियों से पानी को शुद्ध करने में तैयार किये जाने वाले पानी के बराबर ही नुकसान होता है। एक जल मन्दिर को स्थापित करने की लागत 15 लाख रुपये है। 

sanjeevni app

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended