संजीवनी टुडे

राज्य के हनी हब से विदेश में शहद निर्यात की पहल शुरू

संजीवनी टुडे 17-02-2019 11:48:09


कोलकाता। पश्चिम बंगाल के विस्तृत इलाके में उत्पादित होने वाली शहद(हनी) को राज्य सरकार ने विदेशों में निर्यात करने की पहल तेज कर दी है। रविवार को राज्य के खाद्य प्रसंस्करण विभाग की ओर से इस बारे में जानकारी दी गई है। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

बताया गया है कि बंगला सरकार के खाद्य प्रसंस्करण उद्योग और बागवानी विभाग ने उत्तर 24 परगना जिले के देगंगा में हनी हब में उत्पादित होने वाले शहद के हिस्से का निर्यात करने की पहल की है। विभाग की ओर से बताया गया है कि हनी हब के लिए 11 जनवरी को मुख्यमंत्री द्वारा आधारशिला रखी गई थी। इस परियोजना के लिए 9.71 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। हब देगंगा के कृषक बाजार में स्थापित किया जाएगा।

विभाग की ओर से बताया गया है कि यह पहली बार है कि बंगाल से शहद निर्यात करने की आधिकारिक पहल की गई है। सुंदरवन से शहद कुछ यूरोपीय देशों को निर्यात किया जाता है। अब यह निर्यात अधिक संगठित तरीके से किया जाएगा। साथ ही शहद का एक हिस्सा घरेलू बाजार में भी बेचा जाएगा। राज्य के भीतर और बाहर और दूसरे भाग में निर्यात किया जाएगा।

सुंदरवन के मधुमक्खी पालकों द्वारा एकत्रित हनी को लेकर हब पर संसाधित किया जाएगा। हनी हब में संग्रह केंद्र, प्रसंस्करण केंद्र, पैकेजिंग केंद्र, भंडारण केंद्र, प्रदर्शन केंद्र, आदि जैसी इकाइयां होंगी। हब से शहद एक विशेष ब्रांड नाम के तहत बेचा जाएगा ताकि इसे अन्य कंपनी लेबल से अलग किया जा सके।

परियोजना के कार्यान्वयन के बाद, बहुउद्देशीय सहकारी समितियों की स्थापना की जाएगी, जिनके पास मधुमक्खी पालक सीधे अपने शहद बेचने में सक्षम होंगे। इस प्रक्रिया के जरिए बिचौलियों के शामिल नहीं होने से विक्रेताओं को अधिक फायदा होगा। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

राज्य सरकार की पहल के कारण शहद उत्पादन में 20 से 30 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है। बताया गया है कि दक्षिण 24 परगना के सुंदरवन में 3,000 से अधिक मधुमक्खी पालनकर्ता साल भर शहद उत्पादन का कार्य करते हैं। 

More From state

Loading...
Trending Now