संजीवनी टुडे

गृह मंत्री राजनाथ ने रिमोट से किया रक्सौल आईसीपी का उद्घाटन व एसएसबी के भवन का शिलान्यास

संजीवनी टुडे 06-03-2019 17:36:38


रक्सौल। भारत-नेपाल के बीच द्विपक्षीय व्यापार,सुगम आवागमन और सीमा सुरक्षा के दृष्टिकोण से बाघा अटारी बॉर्डर के बाद रक्सौल में यूरोपियन स्टाइल में निर्मित भारत के सबसे बड़े इंटीग्रेटेड चेक पोस्ट का उद्घाटन बुधवार को केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने किया। इसके साथ ही उन्होंने बॉर्डर पर तैनात एसएसबी के लिए 21.65 करोड़ की लागत से आईसीपी परिक्षेत्र स्थित एसएसबी के आवासीय भवन प्रोजेक्ट का शिलान्यास भी किया।उन्होंने दिल्ली में आयोजित समारोह के बीच वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये रिमोट का बटन दबा कर यह उद्घाटन व शिलान्यास किया।

जयपुर में प्लॉट मात्र 260000/- में, 12 माह की आसान किस्तों में कॉल  9314166166

इस मौके पर रक्सौल आईसीपी पर आयोजित समारोह में क्षेत्रीय भाजपा सांसद डॉ. संजय जायसवाल ने बतौर मुख्य अतिथि शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह आईसीपी भारत -नेपाल रिश्ते का सेतु है।उन्होंने कहा कि इससे भारत - नेपाल के व्यापार के नए युग की शुरुआत होगी। भारत -नेपाल के बीच द्विपक्षीय व्यापार प्रर्वद्धन के दृष्टिकोण से 24 अप्रैल 2010 को इस आईसीपी निर्माण का शिलान्यास तत्कालीन गृहमंत्री पी चिदंबरम और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संयुक्त रूप से किया था। 68 एकड़ भूमि में निर्मित होने वाले आईसीपी का निर्माण लगभग सवा अरब रुपए की लागत से हुआ था। इसका संचालन पिछले वर्ष 7अप्रैल 2018 से शुरू हुआ। नेपाल के वीरगंज में नवनिर्मित आईसीपी का उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली ने रिमोट कंट्रोल से संयुक्त रूप से किया था लेकिन,बीरगंज आईसीपी भी भारत सरकार के खर्च पर बना है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इसके उद्घाटन के बाद आईसीपी का संचालन शुरू हो गया मगर रक्सौल के पंटोका आईसीपी का विधिवत उद्घाटन लम्बित रहा। 26 फरवरी को इस आईसीपी का उद्घाटन केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह करने वाले थे लेकिन,पुलवामा आतंकी हमले के बाद वायुसेना के एयर स्ट्राइक व बदले हालात के कारण यह कार्यक्रम रद्द हो गया था। इस मौके पर पूरे कार्यक्रम के लाइव टेलीकास्ट की व्यवस्था थी। कार्यक्रम में स्वागत व अध्यक्षता लैंड पोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया के अंडर सेक्रेटरी सौरभ कुमार ने किया। 

More From state

Trending Now
Recommended