संजीवनी टुडे

पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने का निर्णय ऐतिहासिक: हरीश द्विवेदी

संजीवनी टुडे 30-06-2019 18:08:26

प्रदेश सरकार ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए 17 अति पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल कर लिया है।


बस्ती। प्रदेश सरकार ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए 17 अति पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल कर लिया है। सरकार के इस निर्णय पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सांसद हरीश द्विवेदी ने कहा कि यह निर्णय भारतीय जनता पार्टी के सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के नारे को चरितार्थ करती है।

ये बातें रविवार को सांसद द्विवेदी ने बस्ती सर्किट हाउस के सभागार में आयोजित प्रेस वार्ता में कही। सांसद हरीश द्विवेदी ने कहा कि प्रदेश भर के कहार, कश्यप, केवट, मल्लाह, निषाद, कुम्हार, प्रजापति, धीवर, बिन्द, भर, राजभर, धीमर, बाथम, तुरहा, गोड़िया, माझी और मछुआ जाति के लोग लंबे अरसे से खुद को अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग कर रहे थे, जिसे पूरा करने के उद्देश्य से प्रदेश की योगी सरकार ने यह ऐतिहासिक फैसला लिया। इस फैसले से बड़ी संख्या में इन जातियों के लोगों इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि पिछले करीब दो दशक से इन सत्रह अति पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने की कोशिशें की जा रही हैं। पिछली सपा और बसपा सरकारों में इन्हें अनुसूचित जाति में शामिल करने का निर्णय मामला ठंडे बस्ते में चला गया था। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended