संजीवनी टुडे

स्वास्थ विभाग ने कोरोना मरीज को दी बीमारी से लड़ने की संजीवनी

संजीवनी टुडे 23-05-2020 15:57:59

बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों की वजह से जहां एक ओर कोरोना के मरीज जनपद में बढ़ रहे हैं तो वहीं इसकी चपेट में आ चुके लोग सही भी हो रहे हैं।


कानपुर देहात। बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों की वजह से जहां एक ओर कोरोना के मरीज जनपद में बढ़ रहे हैं तो वहीं इसकी चपेट में आ चुके लोग सही भी हो रहे हैं। इन मरीजों के सही होने के सबसे बड़ा हाथ स्वास्थ विभाग के कर्मचारियों का है जो मरीजों का हौसला बढाकर इससे लड़ने के लिए मरीजों को प्रोत्सहित कर रहे है। 

देश में महामारी कोरोना ने अपने पैर पसार दिए हैं इतनी सावधानी के बाद भी देश में कोरोना मरीजों की संख्या का आंकड़ा एक लाख पार कर चुका है। इसके साथ ही इसी आंकड़ें में एक बात यह भी अच्छी है कि हाजरों लोगों ने इससे जंग जीत ली है और सही होकर अपने घरों में पहुच चुके हैं। ऐसा ही कुछ कानपुर देहात में भी देखने को मिला जहां अभी तक कोरोना के कुल नौ मरीज हो चुके हैं जिसमें एक कि मौत हो चुकी है वहीं एक सही भी हो चुका है। 

मनेथू गांव का रहने वाला एक वयक्ति बाहर रहकर काम कर रहा था और लॉक डाउन के दौरान घर वापसी आया था और उसकी जांच करने पर उसकी रिपोर्ट पॉजिटीव आई थी। जैसे ही इस मरीज को यह पता चला कि वह कोरोना पॉजीटीव आया है उसकी हिम्मत डोल गई और उसने सोचा कि अब वह बच नही पायेगा। 'हिन्दुस्थान समाचार' से खास बातचीत में उसने बताया कि वह पल उससे लिए सबसे भयावय था जब उसको कोरोना पॉजिटीव होने की खबर मिली थी। मरीज को इलाज के लिए जब भेजा गया तो वह निरश महसूस कर रहा था। मरीज ने बताया कि उसको बहुत ही अच्छी तरह एक साफ सुथरी जगह रखा गया और उसका इलाज शुरू किया गया। 

सबसे बड़ी बात यह थी कि वहां इलाज करने वाले कोरोना वारियर्स मरीज से इस तरह बात कर रहे थे जैसे वो उनका मेहमान हो। जो भी डॉक्टर उसको देखने आते वो सभी मरीज का उत्साह बढाते और बोलते की कुछ भी नही है यह बीमारी बहुत जल्द ठीक हो जाओगे। डॉक्टरों की यह बात सच हुई है कुछ दिनों में ही मरीज सही हो गया और उसकी दो रिपोर्ट निगेटिव आई। मरीज को डिस्चार्ज कर दिया गया। देखने की बात यह थी कि उस वक़्त भी उसका उत्साह बढ़ाया गया और तालियां बजाकर उसे डिस्चार्ज किया गया। मरीज सही होने के बाद जनपद के जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह से भी मिला जहां पर उसे जिलाधिकारी द्वारा भी सम्मान मिला। इस तरह के व्यवहार को लेकर मरीज के अंदर कोरोना वारियर्स के लिए सम्मान बढ़ गया है। 

यह खबर भी पढ़े: दिल्ली में कोरोना से 23 लोगों की मौत, आंकड़ा बढ़कर हुआ 231

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended