संजीवनी टुडे

शव का टायरों से अंतिम संस्कार करने वाला हेड कांस्टेबल निलम्बित

संजीवनी टुडे 10-01-2019 11:30:00


बागपत। एक लावारिस शव का टायरों से अंतिम संस्कार करने के मामले को पुलिस अधीक्षक ने काफी गंभीरता से लिया है। इस मामले में आरोपित हेड कांस्टेबल को उन्होंने तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। रविवार को कोतवाली क्षेत्र के गांव सिसाना के जंगल में एक नलकूप के हौज में एक व्यक्ति का शव पड़ा मिला था।

पोस्टर्माटम रिपोर्ट में उसकी मौत पानी में डूबने के कारण हुई थी। उसकी शिनाख्त नहीं हो सकी थी, इसलिए शव को 72 घंटे तक मोर्चरी में ही सुरक्षित रखा गया था। बुधवार को 72 घंटे का समय पूरा होने के बाद इस लावारिस का अंतिम संस्कार करने की जिम्मेदारी कोतवाल आरके सिंह ने हेड कांस्टेबल जयवीर सिंह को सौंपी थी और अंतिम संस्कार के लिए उसे 4500 रुपये दिए गए थे।

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

इसके बाद जयवीर सिंह जिला अस्पताल पहुंचा और मोर्चरी से शव को लेकर पक्का घाट के निकट यमुना के किनारे ले जाकर शव का अंतिम संस्कार लकड़ियों के बजाय पुराने टायर जलाकर कर दिया। आज सुबह जब पुलिस अधीक्षकको इस संबंध में जानकारी हुई तो उन्होंने इसे काफी गंभीरता से लिया और कोतवाल को बुलाकर इस संबंध में स्पष्टीकरण लिया। इस अमानवीय कृत्य पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की और आरोपी हेड कांस्टेबल को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

आरोपी हेड कांस्टेबल ने अपने स्पष्टीकरण में कहा कि लकड़ियों के आग न पकड़ने के कारण उसने एक टायर का टुकड़ा डाल दिया था, लेकिन पुलिस अधीक्षक उसके कथन से संतुष्ट नहीं हुए। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि इस मामले की जांच कराई जाएगी।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended