संजीवनी टुडे

ड्रग माफिया से निपटेगा हरियाणा का नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो, सरकार ने किया गठन

संजीवनी टुडे 02-07-2020 21:18:51

ड्रग माफिया से निपटेगा हरियाणा का नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो, सरकार ने किया गठन


चंडीगढ़। हरियाणा में नशा तस्करी की बढ़ रही घटनाओं के मद्देनजर सरकार स्टेट नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो का गठन किया है। गुरुवार को गृह विभाग ने वरिष्ठ आईपीएस एडीजीपी श्रीकांत जाधव को ब्यूरो का चीफ नियुक्त कर दिया। सरकार ने ब्यूरो के लिए 380 नये पदों के सृजन को भी मंजूरी दी है। दूसरी ओर हरियाणा क्राइम ब्यूरो और एफएसएल को भी नारकोटिक्स ब्यूरो के अधीन करने की तैयारी है। गृह विभाग ने इसका प्रस्ताव तैयार करके सरकार को भेज दिया है।

पंजाब के बाद हरियाणा में नशीले पदार्थों का सेवन बढ़ा है। ड्रग माफिया राज्य में अपनी जड़ें जमाता जा रहा है। युवा ही नहीं, स्कूल-कॉलेजों के विद्यार्थी भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। ड्रग माफिया से निपटने के लिए हरियाणा की पहल पर ही उत्तर भारत के राज्य - जम्मू-कश्मीर, पंजाब, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, नई दिल्ली व राजस्थान एक प्लेटफार्म पर आ चुके हैं। सरकार ने गुरुवार को श्रीकांत जाधव की अगुवाई में इसका गठन कर दिया है। गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव विजय वर्धन ने डीजीपी मनोज यादव के प्रस्ताव पर मुहर लगाते हुए ब्यूरो के लिए 380 पदों के सृजन को मंजूरी दी है। 

ब्यूरो में पांच डीएसपी के अलावा 14 इंस्पेक्टर, 27 सब-इंस्पेक्टर, 44 एएसआई, 63 हैड-कांस्टेबल, 151 कांस्टेबल के अलावा डीए सहित कई अन्य पदों को स्वीकृत किया है। पुलिस अकादमी मधुबन स्थित एफएसएल लैब को भी इस ब्यूरो के अधीन किया जाएगा। लैब की सैम्पलिंग में सुपरविजन के चलते यह प्रस्ताव बनाया है। वहीं हरियाणा क्राइम ब्यूरो का नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो में मर्ज किए जाने की भी सूचना है। प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज का कहना है कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो अब जल्द अपना काम शुरू करेगा। उन्होंने बताया कि ब्यूरो के चीफ ने आज उनके साथ अम्बाला में मुलाकात की है। जहां ड्रग माफिया पर नकेल कसने के लिए रणनीति पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि ब्यूरो को आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा।

यह खबर भी पढ़े: देश में अप्रैल 2023 तक निजी ट्रेनों के चलने की संभावना: रेलवे

यह खबर भी पढ़े: मोहिना कुमारी ने एक महीने बाद कोरोना को दी मात, डॉक्टरों के साथ शेयर की सेल्फी

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended