संजीवनी टुडे

दुष्कर्म के मामलों में हो फांसी : शांता कुमार

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 05-12-2019 19:33:29

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने देश में हो रही दुष्कर्म की घटनाओं पर चिंता जताते हुये इन मामलों में फांसी के प्रावधान की बात कही है ।


धर्मशाला। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने देश में हो रही दुष्कर्म की घटनाओं पर चिंता जताते हुये इन मामलों में फांसी के प्रावधान की बात कही है ।

यह खबर भी पढ़ें:​ सीरिया में कार विस्फोट हमला, पांच तुर्की सैनिकों की मौत

उन्होंने ट्वीट कर मांग उठाई कि ऐसे मामलों पर फांसी की सजा का प्रावधान होना चाहिए।उन्होंने लिखा है कुछ वर्ष पहले दिल्ली में निर्भया कांड उसके बाद लगातार दुष्कर्म के समाचार फिर हिमाचल के कोटखाई में और अब हैदराबाद में एक महिला डॉक्टर से शर्मनाक दरिंदगी। इन सब नवीन घटनाओं से एक मनुष्य के तौर पर मेरा मन ही नहीं आत्मा भी कांप रही है।

उन्होंने कहा कि कभी किसी ने सोचा नहीं था कि आजादी के 70 साल बाद हमें इतना अधिक लज्जित होना पड़ेगा। उनका कहना था कि दिल्ली के निर्भया कांड के अपराधियों को फांसी की सजा हो गई थी, लेकिन सरकारी गोरखधंधे के कारण सात साल से फांसी नहीं दी जा रही। पूरे देश में दुष्कर्म के मामले दोगुने हो गए, लेकिन केवल 25 प्रतिशत में ही सजा होती है।

हिमाचल प्रदेश के कोटखाई में हुए दुष्कर्म हत्या मामले ने प्रदेश के इतिहास में पहली बार गुस्से से भरी भीड़ ने पुलिस थाने को आग लगाई। डीआइजी तक पुलिस के सात अधिकारी लंबे समय तक जेल में रहे। सीबीआइ जांच करती रही। लेकिन शर्मनाक दरिंदगी करने वाले अपराधी आज तक नहीं पकड़े गए।

अपनी सरकार पर हमला करते हुए शांता कुमार ने कहा कि हैदराबाद की घटना के बाद सारा देश सड़क पर चिल्ला रहा है, आंसू बहा रहा है। इतने दिन हो गए सरकार अभी तक चुप है, मुझे इसकी भी हैरानी हो रही है। सारी स्थिति बहुत गंभीर हो गई है। लोगों का विश्वास उखड़ रहा है। सरकार अतिशीघ्र यह कार्रवाई करे। कानून बदले और दुष्कर्म सिद्ध होने पर फांसी और केवल फांसी की ही सजा हो। तीन माह में अपराधियों को सूली पर चढ़ाया जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended