संजीवनी टुडे

गुजरात : गांधीनगर में कोरोना वायरस के संक्रमण से पहली मौत

संजीवनी टुडे 10-04-2020 12:47:06

गांधीनगर में कोरोना वायरस के संक्रमण से पहली मौत


अहमदाबाद। गुजरात में कोरोना का संकट लगातार बढ़ रहा है। गांधीनगर में कोरोना के कारण पहली मौत की सूचना मिली है। कोरोना पॉजिटिव पोते के संपर्क में आने वाले 84 वर्षीय दादा की मृत्यु हो गई है। राजकोट के जंगलेश्वर में पांच और सकारात्मक मामले दर्ज किए गए हैं। नागरवाडा(वडोदरा) के सैयदपुरा रात में 17 सकारात्मक मामले सामने आए हैं। अहमदाबाद में दानिलिमडा का सफी मंजिल क्षेत्र में 30 लोग संक्रमित पाए गए। राजकोट के जंगलेश्वर में पांच और सकारात्मक मामले दर्ज किए गए।

कच्छ जिले में कोरोना पॉजिटिव बुजुर्ग पत्नी और बहू की रिपोर्ट सकारात्मक आई है। इसके साथ, कच्छ में कुल चार कोरोना सकारात्मक केस आए हैं। पिछले 24 घंटों में, राज्य में 100 नए सकारात्मक मामले दर्ज किए गए। वहीं 17 सकारात्मक मामलों की जानकारी के बाद वड़ोदरा महानगर पालिका के नागरवाडा क्षेत्र को रेड ज़ोन क्षेत्र घोषित किया गया है। साथ ही राज्य में कुल कोरोना मरीजों की संख्या 308 हो गई है।

अहमदाबाद ने गुरुवार को एक ही दिन में कोरोना के 58 सकारात्मक मामले सामने आए थे। विशेष रूप से दानिलिमडा का सफी मंजिल क्षेत्र कोरोना एपी सेंटर था। यहां एक व्यक्ति ने 30 लोगों को को संक्रमित था। गुरुवार को रिपोर्ट किए गए सभी मामले स्थानीय प्रसारण से हैं। 58 मामलों में से 30 सफी मंज़िल क्षेत्र में हैं। इससे पहले, पूरे क्षेत्र में जहां एक सकारात्मक मामला पाया गया था, क्लस्टर को अलग कर दिया गया था। 

उसके बाद, छोटी पैदल दूरी पर रहने वाले 128 लोगों के नमूने लिए गए थे। वडोदरा में, केवल 21-21 सकारात्मक रिपोर्ट नागरवाड़ा के सैयदपुरा में एक ही दिन में घोषित की गई हैं। जबकि एक कटकवाड़ा का मिलाकर कुल 22 कोरुना सकारात्मक मामले ने चिंता बढ़ा दी है। दूसरी ओर नागरवाड़ा और तडालजा में पुलिस ने क्लस्टर को अलग कर दिया है।

अबतक गुजरात में कुल 308 सकारात्मक मामले और 19 मौतें हुई हैं। अहमदाबाद में 153, वडोदरा- 39, सूरत- 24, भावनगर- 22, राजकोट- 18, गांधीनगर- 14, पाटन- 14, कच्छ- 04, भरुच- 04, पोरबंदर- 03, गिर-सोमनाथ- 02, मेहसाणा- 02, छोटापुडपुर- 02, आनंद- 02, पंचमहल- 01, जामनगर- 01, साबरकांठा- 01 एवं दाहोद में 01 मरीज हैं।

कुछ हफ्ते पहले, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने कोरोना वायरस के रैंडम सैंपलिंग के माध्यम से एक जांच शुरू की थी। रैंडम सैंपलिंग का उद्देश्य यह पता लगाना था कि क्या कोरोना के कुछ वायरस सामुदायिक स्तर पर संचारित नहीं हो रहे है। फिलहाल वायरस संक्रमण तीसरे चरण तक नहीं पहुंचा है। आईसीएमआर ने अब जो रिपोर्ट दी है वह इस तथ्य की ओर इशारा करती है कि देश में कई समूहों में सामुदायिक प्रसारण पहले ही शुरू हो चुका है।

आईसीएमआर ने सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इलनेस वाले रोगियों के रैंडम सैंपलिंग का काम शुरू कर दिया है। यह नमूना इस धारणा को प्राप्त करने की कोशिश कर रहा है कि कुछ सामुदायिक प्रसारण नहीं होते हैं। तो इसके खिलाफ हकलाने की एक रिपोर्ट सामने आई है। देश के 15 राज्यों में एक प्रतिशत से अधिक एसएआईआई रोगियों में कोविद-19 सकारात्मक है। गुजरात में 792 एसएआईआई रोगियों का परीक्षण किया गया, 13 मामलों में कोरोनरी वायरस पॉजिटिव (1.6%) पाया गया। 

यह खबर भी पढ़े: इस टेलिकॉम कंपनी ने शुरू की नई सर्विस, अब सिर्फ SMS और मिस्ड कॉल से होगा आपका मोबाइल रिचार्ज

यह खबर भी पढ़े: Stock Market: 800 अंक उछलकर 30 हजार के ऊपर पहुंचा सेंसेक्स, निफ्टी भी 9000 के पार

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended