संजीवनी टुडे

पूर्व मुख्यमंत्रियों को 15 दिन में करने होगें सरकारी आवास खाली, नोटिस हुए जारी

संजीवनी टुडे 18-05-2018 08:48:31


लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश सरकार के उस कानून को रद्द कर दिया है। जिसके तहत प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को आजीवन बंगला देने का प्रावधान किया गया था। पूर्व मुख्यमंत्रियों मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, नारायण दत्त तिवारी, कल्याण सिंह, और राजनाथ सिंह को सरकारी बंगला खाली करने का नोटिस जारी कर दिया है। सभी को आवास खाली करने के लिए 15 दिन का समय दिया है।

मुलायम सिंह यादव की सीएम योगी से हुई मुलाकात को भी इसी प्रकरण से जोड़कर देखा जा रहा है। इस मुलाकात की वजह के बारे में सत्ता के गलियारे में चर्चा रही कि मुलायम सिंह ने मुख्यमंत्री से अपने और अखिलेश यादव के बंगलों को पार्टी नेताओं राम गोविन्द चौधरी और अहमद हसन के नाम पर आवंटित करने का अनुरोध किया है। राम गोविन्द चौधरी विधानसभा और अहमद हसन विधान परिषद में नेता विरोधी दल हैं। इस मुलाकात के बाद अचानक नोटिस जारी होने को महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

मौजूदा समय में आधा दर्जन पूर्व मुख्यमंत्री सरकारी बंगले पर काबिज हैं। अखिलेश यादव, 5- विक्रमादित्य मार्ग पर मुलायम सिंह यादव, 13-माल एवेन्यू पर मायावती, 2-मालएवेन्यू पर कल्याण सिंह, 1-माल एवेन्यू पर नारायण दत्त तिवारी और 4- केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह रह रहे हैं। राज्य संपत्ति विभाग इसके लिए सालाना बजट आवंटित करता है। जबकि ये सभी बंगले मामूली किराये पर आवंटित हैं।


जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

हालांकि इन सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों की मृत्यु के बाद सरकार की सहमति से राज्य संपत्ति विभाग ने इनसे बंगला खाली करा लिया। हालांकि, वीर बहादुर सिंह के विधायक पुत्र फतेहबहादुर ने वीर बहादुर की स्मृति में बनी संस्था के नाम यह बंगला आवंटित करा लिया। इसी तरह श्रीपति मिश्रा के बंगले पर भी उनके पुत्र का कुछ दिन कब्जा रहा। बाद में राज्य सम्पति विभाग के दबाव में बंगला खाली करना पड़ा।

sanjeevni app

More From state

Trending Now
Recommended