संजीवनी टुडे

कोरोना से लड़ने के लिए सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करे: कन्हैया कुमार

संजीवनी टुडे 27-03-2020 13:13:50

छात्र नेता डॉ कन्हैया कुमार ने नोवल कोरोना वायरस से लड़ने के सरकारी प्रयास की सराहना करते हुए कहा है कि कोरोना महामारी से लड़ाई हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है।


बेगूसराय। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और चर्चित छात्र नेता डॉ कन्हैया कुमार ने नोवल कोरोना वायरस से लड़ने के सरकारी प्रयास की सराहना करते हुए कहा है कि कोरोना महामारी से लड़ाई हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। हमें सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए और सरकार को हमारी बुनियादी जरूरतों को पूरा करना चाहिए। 

कन्हैया ने कहा है कि कोरोना से लड़ने के लिए सरकार ने क्या किया- क्या नहीं किया, यह सवाल जवाब बाद में होता रहेगा। अभी जरूरत है सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए सरकार को सहयोग करने की। सरकार चाहे तो आवश्यक सेवाओं के लिए विभिन्न जन संगठनों के युवा कार्यकर्ताओं का सहयोग ले। युवाओं को चाहिए कि घर में रहने के आदेश का पालन करते हुए स्थानीय प्रशासन के संपर्क में रहकर, आवश्यकता पड़ने पर अपनी भूमिका निभाने में तत्पर रहें क्योंकि एक साथ लड़ाई लड़कर ही कोरोना वायरस को हराया जा सकता है। उन्होंने कहा है कि कोरोना को लेकर बड़ी संख्या में सूचना के साथ अफवाह फैल रही है। 

इसलिए लोग सतर्क रहें और सरकार के लॉकडाउन दिशा-निर्देशों को पूरा करें। सरकार बुनियादी जरूरत की चीजों को लगातार आमजन तक पहुंचाए तो लॉकडाउन सफल होगा। यह पूरी लड़ाई स्वास्थ्य सेवा से जुड़े लोगों के सहयोग एवं हिम्मत से ही संभव है। स्वास्थ सेवा से जुड़े लोग 18-18 घंटे काम कर रहे हैं, लेकिन कई जगह सुरक्षा उपकरणों की कमी है। दुखद बात है कि देश बचाने में लगे ऐसे स्वास्थ्य कर्मियों के साथ मोहल्ला और कॉलोनी के लोग, मकान मालिक बुरा बर्ताव कर रहे हैं, यह गलत है। देश बचा रहे लोगों को इस समय प्यार दें, सम्मान दें, सलाम करें। कन्हैया ने कहा है कि व्हाट्सएप यूनिवर्सिटी बहुत पहले से गलत सूचना, टोना-टोटका, अफवाह फैला रही है। 

आज के विपरीत परिस्थिति में वर्क फ्रॉम होम करना पड़ रहा है, ऐसे में जरूरत है कि कम से कम एक बार घर का सभी व्हाट्सएप चेक किया जाए कि कहीं कोई गलत सूचना या अफवाह तो नहीं फैला रहा है, जिससे नई बीमारी होगी। जब हम सब कोरोना से लड़ रहे हैं तो कोई जरूरी नहीं कि दूसरी बीमारी नहीं हो। वैज्ञानिकता को अपनाकर उसे घर में लागू करने में अपनी भूमिका निभाएं। काम वाले को काम जाने की चिंता, बेरोजगारों को बेरोजगारी बढ़ने की चिंता है। कोरोना देश में विकराल रूप धारण करता जा रहा है, जियो और जीने दो के सिद्धांत में खुद और आसपास के लोगों का ख्याल रखने की बातें जोड़ें। 

सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए आसपास के भूखे इंसान और जरुरतमंद लोगों की देखभाल करें। सरकार के उपाय और संसाधनों का पालन करें। कन्हैया ने केंद्र एवं सभी राज्य की सरकारों से अपील की है कि मजदूरों में पैनिक सिचूएशन पैदा हो रहा है, सैकड़ों किलोमीटर दूर से मजदूर सपरिवार पैदल घर जा रहे हैं, ऐसे लोगों के खाना-पीना, दवा, सुरक्षा समेत बुनियादी जरूरतों को पूरा कर घर पहुंचने में मदद करें। सरकार और हम सब, सबका ध्यान रखें, सब मिलकर महामारी से लड़ेंगे तो हारेगा कोरोना- जीतेगा इंडिया।

यह खबर भी पढ़े: लॉकडाउन: दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलो की संख्या बढ़कर हुई 39, केजरीवाल बोले- आज से हम...

यह खबर भी पढ़े: Corona virus: लॉकडाउन की वजह से दो सगी बहनों का हुआ ऑनलाइन निकाह

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended