संजीवनी टुडे

बारिश के साथ फैली कोहरे की चादर

संजीवनी टुडे 10-12-2018 20:51:00


सिवनी। सिवनी जिले में रविवार को देर शाम से अचानक मौसम ने करवट बदली और हल्की बारिश के बाद ठंड ने अपने तेवर दिखाने आरंभ कर दिये। सोमवार प्रातः लगभग 8 बजे तक सारा नगर कोहरे की चपेट में दिखायी दिया। वहीं पुनः हुई बारिश के बाद थोडी देर के लिये सूर्य देव के दर्शन अवश्य हुये, लेकिन बादल आसमान में देखे गये, जिससे ठंड का ज्यादा असर महसूस किया गया। सोमवार को सुबह पानी के साथ दाल के आकार के ओले गिरने की बात भी नागरिकों द्वारा कहीं जा रही है। पानी गिरने के पश्चात भी आसमान पर बादलों का डेरा जमा हुआ है जिससे और पानी बरसने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

ज्ञात रहे कि विगत नवंबर माह में दिन का तापमान ज्यादा होने के कारण ठंड का एहसास कम हो रहा था, लेकिन दिसंबर माह आरंभ होते ही ठंड अपने पूरे शबाव पर दिखायी दे रही है। कल हुई बारिश के बाद जहां उन किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पडा, जिन्होने अधिकृत खरीदी केंद्रों पर बिक्री के लिये धान लायी थी। अचानक हुई बारिश के बाद कई स्थानों पर किसानों की धान गिली होने के समाचार प्राप्त हो रहे है, वहीं सुबह हुई बारिश के बाद नगर पालिका की सफाई व्यवस्था की पोल खुल गई जब बुधवारी बाजार क्षेत्र में जल प्लावन की स्थिति बनी।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार आज प्रातः का अधिकतम तापमान 18.4 डिग्री सेल्सियस रहा, वहीं न्यूनतम तापमान 17.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि गत 9 दिसंबर की शाम का अधिकतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। बीते दिवस 9 दिसंबर की सुबह 8 बजे से आज सुबह 8 बजे तक जिले भर में कुल 0.8 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।

जयपुर में प्लॉट: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

MUST WATCH & SUBSCRIBE

आगे बताया गया कि वर्तमान में पश्चिम एवं दक्षिण की आरे से हवाएं चल रही है जिसके चलते आसमान पर बादलों का डेरा होने के साथ-साथ पानी बरस रहा है। जिले में बीती शाम से आज प्रातः तक अनेक स्थानों तक झमाझम तो अनेक स्थानों पर बूंदाबांदी होने के समाचार प्राप्त हुये है। जैसे ही हवाओं का रूख बदलेगा आसमान से बादलों का डेरा हट जायेगा और शीत लहर के साथ कडाके की ठंड लगना प्रारंभ हो जायेगी। वर्तमान में आसमान में छाये बादलों के नीचे कोहरे की चादर होने के कारण शीत लहर चलना प्रारंभ नहीं हुई है।

More From state

Trending Now
Recommended