संजीवनी टुडे

आंचलिक विकास के साथ समस्याओं के निस्तारण पर ध्यान दें - शिवांगी

संजीवनी टुडे 31-07-2019 18:57:58

जिला कलक्टर ने ली राजस्व एवं विभागीय अधिकारियों की जिलास्तरीय बैठक


चित्तौड़गढ़। जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार ने राजस्व अधिकारियों एवं जिलास्तरीय अधिकारियों से राज-काज सम्पादन में बेहतरी लाने तथा लोक समस्याओं के त्वरित निस्तारण के साथ ही बहुआयामी विकास का सुनहरा स्वरूप दर्शाने में समर्पित भागीदारी का आह्वान किया है।

जिला कलक्टर ने बुधवार को चित्तौड़गढ़ जिला कलक्ट्री परिसर के जिला ग्रामीण विकास सभागार में राजस्व अधिकारियों एवं जिलास्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह आह्वान किया। बैठक में जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीमती नम्रता वृष्णि, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन)मुकेश कुमार कलाल, अतिरिक्त जिला कलक्टर(भू अवाप्ति) विनय पाठक, नगर विकास न्यास सचिव सीडी चारण, जिला रसद अधिकारी ज्ञानमल खटीक, नगर परिषद आयुक्त नारायणलाल मीणा, जिले के उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार, विभिन्न विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी एवं राजस्व से संबंधित कार्मिक उपस्थित थे।

ु

जिला कलक्टर शिवांगी स्वर्णकार ने जिले की सम सामयिक स्थितियों, विभिन्न समस्याओं के निस्तारण की कार्यवाही, विकास गतिविधियों की प्रगति, सरकारी संस्थाओं की स्थिति एवं समस्याओं तथा विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों की प्रगति आदि की समीक्षा करते हुए महत्वपूर्ण निर्देश दिए।

उन्होंने जिलास्तरीय अधिकारियों से कहा कि वे अपने अधीनस्थों की कार्यशैली को और अधिक बेहतर एवं जनोन्मुखी बनाने के लिए मोनिटरिंग में सख्ती अपनाएं और इस तरह से प्रयास करें कि जिले के किसी भी ब्लॉक में कोई समस्या या शिकायत सामने न आए।

ु

जिला कलक्टर ने आंगनवाड़ी केन्द्रों की सेवाओं को प्रभावी बनाने, पोषाहार एवं कार्मिकों से संबंधित भुगतान समय पर सुनिश्चित करने, पोषाहार की गुणवत्ता पर पर्याप्त ध्यान देने, बिजली-पानी से संबंधित समस्याओं के त्वरित निस्तारण आदि के निर्देश दिए।

शिवांगी स्वर्णकार ने राजस्व अधिकारियों को राजस्व से संबंधित काम काज में तेजी लाने, लम्बित मामलों के जल्द से जल्द निस्तारण करने, क्षेत्रीय हलचलों के प्रति सतर्कता बरतने, निरीक्षण एवं भ्रमण कार्यक्रमों को और अधिक प्रभावी बनाने तथा जन समस्याओं एवं ग्राम्य समस्याओं के निराकरण के लिए गंभीरता बरतने के निर्देश दिए। राजस्व से संबंधित गतिविधियों की क्षेत्रवार विस्तार से समीक्षा की गई। बाद में राजस्व अधिकारियों की अलग से भी बैठक लेकर जिला कलक्टर ने गहन समीक्षा की।

ु

अतिरिक्त कलक्टर प्रशासन मुकेश कुमार कलाल ने उपखण्ड अधिकारियों को डीएमएफटी के तहत रमसा के मॉडल स्कूल के कार्याे का निरीक्षण करने, रपट , पुलिया पर खतरे के चेतावनी के बोर्ड लगने तथा माइनिंग के इश्यु, तथा सार्वजनिक निर्माण विभाग की बेगूं -काटून्दा सड़क के कार्याे के संबंधित चर्चा की और कहा कि क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान जहां कहीं कोई समस्या सामने आए, उस पर तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करें।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended