संजीवनी टुडे

जयगुरूदेव मेले में उमड़ा आस्था का सैलाब

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 08-12-2019 14:33:37

उत्तर प्रदेश की कान्हानगरी मथुरा में जयगुरूदेव नामयोग साधना मंदिर के निकट आयोजित करोड़ी मेले में आस्था का समुद्र उमड़ पड़ा है और बिना सरकारी तामझाम के सारी व्यवस्थाएं निर्विघ्न सम्पन्न हो रही हैं।


मथुरा। उत्तर प्रदेश की कान्हानगरी मथुरा में जयगुरूदेव नामयोग साधना मंदिर के निकट आयोजित करोड़ी मेले में आस्था का समुद्र उमड़ पड़ा है और बिना सरकारी तामझाम के सारी व्यवस्थाएं निर्विघ्न सम्पन्न हो रही हैं।

यह खबर भी पढ़ें: पंडितों ने मोबाइल एप का उपयोग कर शतचंडी महायज्ञ कराया पूर्ण

मेले की शुरूआत ब्रह्नलीन संत बाबा जयगुरूदेव ने सात दशक पहले अपने गुरू स्वामी घूरेलाल महराज की श्रद्धा में आध्यात्मिक सत्संग से शुरू की थी लेकिन इस संत के चमत्कारों से इस सत्संग में लोग जुड़ते गए और आज यह न केवल मेले का रूप ले चुका है बल्कि करोड़ी मेला इस प्रकार बन गया है कि चार दिसम्बर से शुरू हुए इस मेले में जयगुरूदेव नामयोग साधना मंदिर के चारो तरफ सिर ही सिर दिखाई पड़ रहे हैं जो बाबा जयगुरूदेव के शिष्य हैं।

नेशनल हाई वे (एनएच 2) पर हर साल बाबा के अनुयायी चार बार एकत्र होते हैं तथा हर बार कम से कम लक्खी मेले का स्वरूप बन जाता है।आगरा जानेवाले पर्यटकों को मेला स्थल से निकलने में होने वाली परेशानी को देखते हुए हाई वे एथारिटी आफ इन्डिया ने अब इस स्थान पर फ्लाईओवर बना दिया है।
लगभग दस वर्ग किमीे परिधि में लगे मेले की सारी व्यवस्थाएं बाबा जयगुरूदेव के अनुयायियों द्वारा ही की जाती हैं। 

जयगुरूदेव धर्म प्रचारक संस्था मथुरा के प्रवक्ता एवं महामंत्री बाबूराम यादव ने बताया कि यह मेला जहां अन्य लोगों के लिए मेला है वहीं बाबा जयगुरूदेव के अनुयायियों के लिए यह एक तीर्थस्थल है तथा इसी कारण इस वार्षिक मेले में बाबा के अनुयायियों का समुद्र जुड़ जाता है। 31 सेक्टर में बंटे इस मेले में बाबा के अनुयायियों के ठहरने आदि के लिए 1500 छोलदारी एवं 1000 स्टोर टेन्ट लगाकर विशेष व्यवस्था की गई है।

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended