संजीवनी टुडे

लॉक डाउन के चलते अजमेर में प्रतिदिन 50 करोड़ रुपये का हो रहा आर्थिक नुकसान

संजीवनी टुडे 29-03-2020 20:48:37

लॉकडाउन के 8वें दिन रविवार तक जिले भर में बाजारों में दुकानों के ताले नहीं खुले, तो वहीं होटलों से लेकर समारोह स्थल तक बंद पड़े हुए हैं, जिसके कारण अजमेर के कारोबारियों का कारोबार ठप पड़ा है, प्रतिदिन 50 करोड़ रुपये का आर्थिक नुकसान हो रहा है।


अजमेर। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते 20 मार्च से राज्‍य में चल रहे लॉकडाउन के 8वें दिन रविवार तक जिले भर में बाजारों में दुकानों के ताले नहीं खुले, तो वहीं होटलों से लेकर समारोह स्थल तक बंद पड़े हुए हैं, जिसके कारण अजमेर के कारोबारियों का कारोबार ठप पड़ा है, प्रतिदिन 50 करोड़ रुपये का आर्थिक नुकसान हो रहा है। 

अजमेर के चार्टेड अकाउंटेंट अजीत अग्रवाल ने बताया कि एक अनुमान के मुताबिक जिले में हुए लॉक डाउन की वजह से शहर में करीब 50 करोड़ रुपये का प्रतिदिन का कारोबार ठप पड़ा है। उन्होंने कहा कि अजमेर शहर ख्वाजा साहब की दरगाह और पुष्कर स्थित ब्रह्मा जी के मंदिर की वजह से जहां वर्ष पर्यन्त जायरीन और श्रद्धालुओं की भीड़ रहती है थी, वहीं अब 400 से अधिक होटल और गेस्ट हाउस लॉकडाउन के चलते बंद पड़े हैं। होटलों और गेस्ट हाउसों में करीब चार हजार श्रमिक काम करते हैं। ऐसे श्रमिकों को अब भोजन के साथ वेतन भी बगैर काम के देना पड़ रहा है। चार हजार से ज्यादा व्यापारी ठाले बैठे हुए हैं।

शहर की लगभग 200 शादियां हुई स्थगित: अजमेर शहर के प्रमुख समारोह स्थल के कारोबारी विजय गुप्ता ने बताया कि शहर में लगभग छोटे- बड़े 200 समारोह स्थल हैं। चूंकि अप्रैल और मई माह में इन्हीं समारोह स्थलों में शादियां होनी थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण सभी शादियां स्थगित हो गई हैं। गुप्ता ने बताया कि 26 अप्रैल को आखातीज के अबूझ सावे पर शादियां नहीं होने से इस कारोबार को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ेगा। शादियां नहीं होने से होटल कारोबार को भी नुकसान उठाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि शादी समारोह से सैकड़ों लोगों को भी रोजगार उपलब्ध होता है। अकेले अजमेर शहर में दो सौ शादियां नहीं होने से आर्थिक स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना संदिग्ध महिला की ईलाज के दौरान मौत, 10 दिन पहले ही विदेश से लौटा था पति

यह खबर भी पढ़े: मुंबई में कोरोना पॉजीटिव महिला की मौत, संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 197

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended