संजीवनी टुडे

फादर पर लगायी आरोप, कहा-यौन शोषण के बाद मां बन गयी, सुलहनामे पर हस्ताक्षर कराने के बाद नहीं मिली जमीन

संजीवनी टुडे 26-02-2019 20:29:40


गुमला। उपायुक्त गुमला शशि रंजन द्वारा आयोजित साप्ताहिक जनता दरबार में फादर पर शारीरिक शोषण करने की शिकायत की गई। उपायुक्त के कक्ष में आयोजित जनता दरबार में डुमरी प्रखण्ड के बिर्री गांव की सरोज बाखला ने आरोप लगाया कि डुमरी प्रखण्ड के ही नवाडीह गांव के फादर बिनोद टोप्पो ने मेरे साथ दुष्कर्म किया। इस कारण मैं एक बच्चे की मां बन गई। इसके पश्चात् फादर बिनोद टोप्पो शादी का प्रलोभन देकर 12 वर्षों तक शारीरिक संबंध बनाते रहे, लेकिन अब फादर बिनोद टोप्पो ने अपनाने से इंकार कर दिया। इस कारण तंग आकर 2007 में डुमरी थाना में दुष्कर्म की प्राथमिकी दर्ज करायी। 

अभी तक केस चल रहा है। विगत 31 अगस्त 2016 को फादर बिनोद टोप्पो को कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई थी। सजा के दौरान फादर बिनोद टोप्पो द्वारा जेल से ही दो लाख रुपये की अर्थिक मदद करने और जमीन का कुछ हिस्सा देकर सलाहनुमा कागजात पर हस्ताक्षर करा लिया, लेकिन उसके बाद अभी तक किसी प्रकार की आर्थिक मदद् या जमीन का हिस्सा मुझे नहीं मिला है। उन्होंने उपायुक्त से उचित न्याय दिलाने की गुहार लगाई है। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188


एक अन्य मामलें में जारी प्रखण्ड के तेतरटोली गांव की दिव्यांग सायरा बानो ने उपायुक्त को आवेदन देकर कृत्रिम पैर लगवाने के लिए मदद की गुहार लगाई। एक अन्य मामलें में पालकोट प्रखण्ड के बघिमा गांव जोलजेन लकड़ा ने विगत 16 जून 2018 को बिजली के चपेट में आने से पति शशि टोपनो की मृत्यु होने की बात बताई। उन्होंने बताया कि प्रावधान के अनुरूप भरण पोषण हेतु मिलने वाली मुआवजा राशि अभी तक नहीं मिली है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उन्होंने उपायुक्त से मिलने वाली मुआवजा राशि एवं योग्यता के अनुसार परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिलाने की मांग की है। इसके अलावा कई अन्य फरियादियों ने उपायुक्त को आवेदन देकर अपनी समस्या को बताते हुए समस्या का समाधान करने की गुहार लगाई है। मामले की सुनवाई के लिए उपायुक्त ने संबंधित विभागों के पदाधिकारियों को पत्र अग्रसारित करते हुए जल्द समस्या का निष्पादन करने का निर्देश दिया है।

More From state

Trending Now
Recommended