संजीवनी टुडे

रजिस्ट्रेशन रिन्यूवल न हुए तो एक जून से डॉक्टर्स कर देंगे क्लिनिक बन्द : आईएमए

संजीवनी टुडे 17-05-2019 22:26:01


गाजियाबाद। डॉक्टर्स, क्लिनिक्स, हॉस्पिटल्स के लिए शासन द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था बड़ी समस्या बन गयी है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में खामियों के चलते तय समय से रजिस्ट्रेशन न हो पाने से नाराज आईएमए ने शुक्रवार को आर-पार की लड़ाई का एलान कर दिया। 

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) की गाजियाबाद इकाई ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में एलान किया कि अगर 30 मई तक उनके रजिस्ट्रेशन रिन्यूवल नहीं हुए तो एक जून से गाजियाबाद के सभी डॉक्टर्स अपने अपने क्लिनिक बन्द कर घर बैठ जाएंगे। 

आईएमए गाजियाबाद के अध्यक्ष डॉ. डीपी सिंह ने आरोप लगाया कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के नाम पर डॉक्टर्स का मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रजिस्ट्रेशन के लिए बनाई गई साइट में अनेक खामियां हैं। साइट में एक डॉक्टर वाले क्लिनिक से लेकर 400 बेड के अस्पताल तक के लिए नियम एक समान बनाये गए हैं। जो कि बिल्कुल आधारहीन है। मसलन फायर विभाग की एनओसी। इसमें क्लिनिक और हॉस्पिटल के लिए 50 हजार लीटर से लेकर 70 हजार लीटर का अंडरग्राउंड वाटर टैंक बनाना अनिवार्य किया गया है, जो मुमकिन नहीं है। इसी तरह सिंगल डॉक्टर वाले क्लिनिक के लिए भी क्वालिफाइड पैरा मेडिकल स्टाफ का नियम और बायो मेडिकल वेस्ट के लिए निगम की एनओसी का नियम भी डॉक्टर्स की परेशानी का सबब बन हुए है।  

डॉ. वीबी जिंदल ने बताया कि शासन द्वारा रजिस्ट्रेशन के लिए साइट बनाई गई है, वो खुलती ही नही है। उन्होंने शासन द्वारा डॉक्टर्स के रजिस्ट्रेशन को लेकर बनाये गए इन कड़े नियमों को अव्यवहारिक बताते हुए विरोध जताया। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

डॉ. नवनीत वर्मा ने कहा कि साफ प्रतीत हो रहा है कि उप्र सरकार की न नीति साफ है और ना ही नीयत। डॉ. राजीव गोयल ने मांग की कि 30 मई तक गाजियाबाद के तकरीबन 700 डॉक्टर्स के रजिस्ट्रेशन ऑफलाइन व्यवस्था से ही रिन्यूवल कर दिए जाए। अन्यथा उनके पास क्लिनिक बन्द कर घर बैठने के अलावा कोई चारा नहीं है। अगर उन्हें मजबूरन ऐसा करना पड़ा तो शहर की चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह चरमरा जाएगी। इस दौरान डॉक्टरों ने बायो मेडिकल वेस्ट के लिए टैक्स वसूलने को भी गलत ठहराया। उनका कहना है कि बायो मेडिकल वेस्ट के लिए सभी डॉक्टर्स ने निजी कम्पनी को ठेका दिया, तो निगम किसा बात का टैक्स वसूल रहा है।

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended