संजीवनी टुडे

शिक्षित बेरोजगारों को 122.43 करोड़ रुपए का भत्ता वितरित: चांदना

संजीवनी टुडे 18-07-2019 08:57:53

कौशल नियोजन एवं उद्यमिता राज्य मंत्री अशोक चांदना ने आज विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विधायक इन्द्रा के मूल प्रश्न के जवाब में यह जानकारी दी।


जयपुर।  राजस्थान में अक्षत योजना के तहत राज्य में पात्र स्नातक बेरोजगारों में गत दिसम्बर तक एक लाख 53 हजार 657 आशार्थियों को 122.43 करोड़ रुपये की राशि बेरोजगार भत्ते के रूप में वितरित की गई है।

कौशल नियोजन एवं उद्यमिता राज्य मंत्री अशोक चांदना ने आज विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विधायक इन्द्रा के मूल प्रश्न के जवाब में यह जानकारी दी। श्री चांदना ने बताया कि प्रदेश में एक जुलाई, 2012 से राजस्थान बेरोजगारी भत्ता योजना, 2012 (परिवर्तित नाम अक्षत योजना) के तहत आवेदन करने वाले निर्धारित पात्रता एवं शर्ते पूरी करने वाले स्नातक एवं स्नातकोत्तर डिग्रीधारी बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता दिया जा रहा था।

 वर्तमान में अक्षत योजना के स्थान पर गत एक फरवरीसे मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना लागू की गई है जिसके तहत पात्र स्नातक महिला तथा विशेष योग्येजन पंजीकृत बेरोजगार आशार्थी को 3500 रूपये प्रतिमाह एवं स्नातक पुरूष आशार्थी को 3000 रुपये प्रतिमाह की दर से भुगतान किया जा रहा है । 

उन्होंने बताया कि अक्षत योजना के तहत पात्र स्नातक बेरोजगार पुरूष आशार्थी को 650 रुपये एवं महिला एवं विशेष योग्यजन आशार्थियों को 750 रुपये की दर से बेरोजगारी भत्ते का भुगतान किया जा रहा था । योजना के तहत जनवरी, 2014 से गत दिसम्बर तक 153657 आशार्थियों को 122.43 करोड रुपये की राशि भत्ता के रूप में वितरित की गई है। गत जनवरी से मई तक 40118 आशार्थियों को 58.27 करोड़ रुपये की राशि भत्ते के रूप में वितरित की गई है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

उन्होंने बताया कि राज्य में पात्र बेरोजगार आशार्थियों के ऑन लाईन आवेदन लिए जा रहे हैं तथा 16 जुलाई तक पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री युवा सम्बल योजना में 29 हजार 19 नये बेरोजगारों को पंजीकृत किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि राज्य में दस लाख 73 हजार 652 शिक्षित बेरोजगार पंजीकृत है।

More From state

Trending Now
Recommended